Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,723,560
मामले (भारत)
199,307,256
मामले (दुनिया)
×

Himachal: मंडी के बल्ह में मिला युवक का शव, सिरमौर में एक ने की आत्महत्या

पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर शुरू की आगामी जांच

Himachal: मंडी के बल्ह में मिला युवक का शव, सिरमौर में एक ने की आत्महत्या

- Advertisement -

मंडी/नाहन। हिमाचल के ऊना जिला में एक युवक-युवती का शव मिलने के बाद अब मंडी जिला में एक युवक का संदिग्ध परिस्थितियों में शव (Dead Body) मिला है। यह शव मंडी जिला के बल्ह क्षेत्र के गलमा पुल के समीप पाया गया है। वहीं नाहन में एक युवक ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली है। पुलिस ने दोनों ही मामलों में शवों को कब्जे में लेकर आगामी जांच शुरू कर दी है। मंडी जिला में सोमवार को गलमा पुल के पास मिले युवक के शव की पहचान 27 वर्षीय जगदीश पुत्र मेहर चंद गांव धडवान नेर कसारला बल्ह जिला मंडी (Mandi) के रूप में हुई है। पुलिस ने युवक के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों के हवाले कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि सोमवार दोपहर स्थानीय ग्रामीणों व पुल निर्माण कार्य में लगे मजदूरों ने गलमा खड्ड किनारे एक युवक को मृत अवस्था में देखा, तो उन्होंने स्थानीय पंचायत उपप्रधान को सूचित किया और उपप्रधान ने बल्ह पुलिस को मामले की सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया और आगामी जांच शुरू की। बताया जा रहा है कि युवक गत रविवार से अपने घर से गायब था। मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी अनिल पटियाल ने बताया कि पुलिस ने युवक की मौत के कारणों को लेकर जांच शुरू कर दी गई है। युवक के शरीर पर किसी प्रकार की चोट के कोई निशान नहीं थे। मौत के असली कारणों का खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही होगा।

यह भी पढ़ें: अंब के जंगल में क्षत-विक्षत हालत में मिले युवती व युवक के शव

 


 

नैनाटिक्कर में जहरीला पदार्थ निगलने से युवक की मौत

इसी तरह से जिला सिरमौर (Sirmaur) के पच्छाद उपमंडल की ग्राम पंचायत नैनाटिक्कर में जहर निगलने से एक युवक की मौत हो गई है। मृतक युवक की पहचान गीताराम पुत्र केशव राम निवासी गांव पांडजी, डाकघर नैनाटिक्कर, तहसील पच्छाद के रूप में हुई है। गीताराम को उसका रिश्तेदार केवलराम निवासी गांव सांटा, डाकघर नैनाटिक्कर, एमएमयू अस्पताल सुल्तानपुर (MMU Hospital Sultanpur) लेकर गया था, जहां इलाज के दौरान गीताराम की मौत हो गई। पुलिस को दिए बयान में केवल राम ने बताया कि गीताराम ने उसे फोन करके बताया कि उसने घास मारने की जहरीली दवाई निगल ली है। जिसके बाद वह गीताराम के घर गया और उसे उपचार के लिए एमएमयू अस्पताल सुल्तानपुर ले गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। उसके बाद पच्छाद पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। पच्छाद पुलिस ने रविवार को एमएमयू अस्पताल सुल्तानपुर जाकर शव को कब्जे लिया। सोमवार को पोस्टर्माटम करने के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया गया। गीताराम के बडे भाई चतर सिंह ने पुलिस को बताया कि मृतक गीताराम के माता पिता का देहांत हो चुका है। वह अविवाहित था और दिहाडी मजदूरी कर पेट पाल रहा था। एसपी सिरमौर डॉ. खुशाहाल शर्मा ने मामले की पुष्टि की है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है