Covid-19 Update

2, 48, 895
मामले (हिमाचल)
2, 31, 328
मरीज ठीक हुए
3885*
मौत
37,618,271
मामले (भारत)
332,278,790
मामले (दुनिया)

हिमाचलः जलशक्ति विभाग ऑफिस के बाहर धरने पर बैठ गए नगर परिषद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष

जोगेंद्रनगर में सीवरेज के काम को लेकर बरती जा रही सुस्ती पर नाराजगी

हिमाचलः जलशक्ति विभाग ऑफिस के बाहर धरने पर बैठ गए नगर परिषद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष

- Advertisement -

जोगेंद्रनगर। सीवरेज कनैक्शन को लेकर जोगिंद्रनगर में जल शक्ति विभाग ( Jal Shakti Department)और नगर परिषद में ठन गई है। विभाग की ओर से लोगों को सीवरेज (Sewerage )से ना जोड़े जाने से गुस्साए नगर परिषद अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व पार्षदों ने जलशक्ति विभाग के ऑफिस के आगे 2 घंटे का सांकेतिक धरना प्रदर्शन किया गया। इस संबंध में नगर परिषद उपाध्यक्ष अजय घरवाल ने बताया कि

ये भी पढ़ें-हिमाचल कैबिनेट: विभागों में पद भरने का लिया बड़ा फैसला, स्कूलों और रोजगार पर भी निर्णय

चार मई, 2000 से सीवरेज व्यवस्था शुरू की गई तब से लेकर आज तक 2,12,95200 रूपये जलशक्ति विभाग को नगर परिषद जोगिंद्रनगर की ओर से जारी किए जा चुके हैं। इसी कड़ी में में नगर परिषद ने 47 लाख रुपये जलशक्ति विभाग को अपने लोगों को सीवरेज व्यवस्था( Sewerage System) से जोड़ने के लिए आठ महीने पहले से जारी किये गए हैं लेकिन आज दिन तक जलशक्ति विभाग ने पिछले आठ महीने में मात्र एक घर को सीवरेज से जोड़ने के लिए मात्र 47 फुट सीवरेज लाइन डाली गई है। उन्होंने कहा कि जलशक्ति विभाग के इस गैर जिम्मेदाराना कार्य प्रणाली के चलते ही आज मिनी सचिवालय के बाहर दो घंटे का सांकेतिक धरना दिया गया । इस सांकेतिक धरने के जरिये प्रदेश सरकार ,स्थानीय विधायक व जलशक्ति विभाग को यह चेताया गया है कि शुक्रवार तक विभिन्न वार्डों में सीवरेज का कार्य यदि जलशक्ति विभाग के द्वारा शुरू नहीं किया गया तो कि नगर परिषद की ओर से जलशक्ति विभाग के अधिकारियों का कार्यालय में घेराव किया जाएगा ।

नगर परिषद के उपाध्यक्ष अजय घरवाल ने विधायक प्रकाश राणा पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन विधायक को गंभीरता से नहीं ले रहा है। जिस कारण जोगिंद्रनगर विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न विभाग जनता के विकास कार्यों के प्रति गंभीरता नहीं दिखा रहे हैं। सीवरेज व्यवस्था से जनता कोनहीं जोड़ा गया परंतु अधिकारियों व ठेकेदारों ने कागजों में सीवरेज से जनता को जोड़ कर अपनी जेबें भरने का काम किया गया है। सीवरेज के नाम पर लाखों रुपये का गोल माल विभाग के द्वारा किया गया है और इसकी जांच सरकार शीघ्र किसी जांच एजेंसी से करवाये। इस सांकेतिक धरने में नगर परिषद की अध्यक्ष ममता कपूर, वार्ड पार्षद शीला भी मौजूद रही।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है