Covid-19 Update

2,27,093
मामले (हिमाचल)
2,22,422
मरीज ठीक हुए
3,830
मौत
34,580,832
मामले (भारत)
262,061,063
मामले (दुनिया)

कृषि कानूनों के विरोध में किसान ने उठाया ऐसा कदम, पांच बीघा गेहूं की फसल पर चला दिया ट्रैक्टर

सोशल मीडिया वायरल हो रहा किसान का वीडियो

कृषि कानूनों के विरोध में किसान ने उठाया ऐसा कदम, पांच बीघा गेहूं की फसल पर चला दिया ट्रैक्टर

- Advertisement -

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का रोष कम होने की जगह और भड़क रहा है और गुस्से में अब किसानों के आंदोलन (#FarmersProstests) का तरीका भी बदलता जा रहा है। उत्तर प्रदेश में किसानों ने विरोध का अनोखा तरीका अपनाया है। यहां पर किसान अपनी फसल खुद बर्बाद कर रहे हैं। बिजनौर के चांदपुर इलाके में एक किसान ने अपनी पांच बीघा गेहूं की फसल पर ट्रैक्टर चलाकर उसे नष्ट कर दिया। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया (Social media) वायरल हो रहा है। वीडियो शेयर करते हुए भाकियू जिलाध्यक्ष दिगंबर सिंह ने दावा किया है कि बिजनौर में फसल नष्ट करने का अभियान शुरू हो गया है।

यह भी पढ़ें:रिंकू शर्मा हत्याकांड : Delhi Police की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किए चार और आरोपी

 

जानकारी के अनुसार चांदपुर तहसील के गांव कुलचाना निवासी किसान सोहित कुमार ने ट्रैक्टर व हैरो लेकर पांच बीघा जमीन पर खड़ी गेहूं व जौ की फसल की जुताई कर दी। इस बात की खबर जब नायब तहसीलदार ब्रजेश कुमार को मिली तो वह कुलचाना पहुंचे और जोती गई फसल को देखा, साथ ही सोहित से बात की। सोहित ने उनसे कहा कि उसने कृषि कानून के विरोध में फसल की जुताई की है। फसल का सही मूल्य नहीं मिल पा रहा है। MSP सही मिलनी चाहिए। मंडी में दाम कुछ है और आढ़ती कुछ बता रहे हैं। नायब तहसीलदार ने किसानों से अपील करते हुए कहा है कि इस तरह का कोई कदम ना उठाएं जिससे किसानों का नुकसान है। कोई बात है तो उन्हें बताएं वे किसानों की बात शासन तक पहुंचाएंगे।

मुजफ्फरनगर में किसान ने नष्ट कर दी एक एकड़ गेहूं की फसल

 

इसके अलावा मुजफ्फरनगर भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के आह्वान पर बिजनौर के बाद मुजफ्फरनगर के दिग्गज नेता राजू अहलावत के गांव में किसान योगेश अहलावत ने एक एकड़ गेहूं की फसल पर रूटर चलाकर खड़ी फसल नष्ट कर दी। खतौली क्षेत्र के गांव भैंसी के किसान योगेंद्र ने ट्रैक्टर से अपनी दस बीघा गेहूं की फसल को जोत दिया। योगेंद्र सिंह के पास 40 बीघा जमीनहै जिसमें उसने 30 बीघे में गन्ना बोया है, दस बीघा में उसने गेहूं की फसल बोई थी। फसल तैयार हो रही थी। रविवार को उसने अपनी 10 बीघा गेहूं की फसल में ट्रैक्टर चला दिया। किसान योगेंद्र सिंह ने बताया कि भारतीय किसान यूनियन के चल रहे आंदोलन के समर्थन में और सरकार की नीतियों के विरोध में उसने यह फसल नष्ट की है। किसान ने बताया कि बाजार में गेहूं का दाम कम है जबकि लागत ज्यादा आई है। वह इस जमीन में अब अगेती चारे की फसल बोएगा। किसानों के इस तरह के कदम से प्रशासन में भी हड़कंप है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है