Covid-19 Update

2,00,282
मामले (हिमाचल)
1,93,850
मरीज ठीक हुए
3,423
मौत
29,853,870
मामले (भारत)
178,745,302
मामले (दुनिया)
×

फ्रांसीसी हैकर ने कहा- आरोग्य सेतु Privacy को खतरे में डाल रहा; सरकार ने दी सफाई

फ्रांसीसी हैकर ने कहा- आरोग्य सेतु Privacy को खतरे में डाल रहा; सरकार ने दी सफाई

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच देश के लोगों से आरोग्य सेतु (Arogya Setu) मोबाइल एप डाउनलोड करने की मांग की जा रही है। वहीं अब इस एप की सुरक्षा और यूजर्स प्राइवेसी को लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। दरअसल फ्रांसीसी हैकर रॉबर्ट बप्तिस्ते ने मंगलवार को भारतीय अधिकारियों को ट्वीट कर बताया कि आरोग्य सेतु ऐप में ‘सुरक्षा संबंधित समस्या’ मिली है जिससे ‘9 करोड़ भारतीयों की निजता को खतरा’ है। उन्होंने आगे के ट्वीट में यह भी लिखा कि, राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एप को लेकर जो सवाल उठाए थे वो सहीं है। इसपर आरोग्य सेतु ऐप के डिवेलपर्स ने इन दावों को खारिज करते हुए अपना बयान जारी किया है।

यह भी पढ़ें: Lockdown से प्रभावित वर्गों को बड़ी राहत देगा जम्मू-कश्मीर प्रशासन, 350 करोड़ के पैकेज का ऐलान

आरोग्य सेतु टीम ने कहा ‘किसी भी यूजर की पर्सनल जानकारी खतरे में होने की बात साबित नहीं होती है।’ वहीं अपने पहले ट्वीट के बाद Robert Baptiste ने एक और ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा कि आरोग्य सेतु एप को लेकर उनके ट्वीट के 49 मिनट बाद कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पॉन्स टीम (CERT) और नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर (NIC) की टीम ने संपर्क किया। मैंने उन्हें एप की खामी के बारे में बताया है। हैकर रॉबर्ट ने आगे कहा है कि भारत के यूजर्स की प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने अबतक आरोग्य सेतु एप में खामी को बताया नहीं है। उन्होंने कहा, ‘वो इस खामी के ठीक होने का इंतजार कर रहे हैं।’

आरोग्य सेतु द्वारा स्टेटमेंट दिए जाने के बाद हैकर ने भी प्रतिक्रिया दी और इशारा किया है कि आज कुछ जानकारियों का खुलासा करेगा। बता दें कि आरोग्य सेतु को भारत में लॉकडाउन शुरू होने के कुछ ही दिनों बाद लॉन्च किया गया था। ये सरकार की आधिकारिक Covid-19 कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग ऐप है, जिसे नेशनल इंफॉर्मेटिक्स सेंटर द्वारा डेवलप किया गया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक लॉन्च के बाद से अब तक इसके 90 मिलियन यूजर्स हो गए हैं। कुछ एक्सपर्ट्स ने यूजर डेटा और लोकेशन कलेक्शन को लेकर इसकी आलोचना भी की है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है