Covid-19 Update

2,27,483
मामले (हिमाचल)
2,22,831
मरीज ठीक हुए
3,835
मौत
34,624,360
मामले (भारत)
265,482,381
मामले (दुनिया)

हरियाणा में कांग्रेस का अविश्वास प्रस्ताव ढेर, मनोहर लाल खट्टर सरकार को मिले 55 मत

सीएम बोले-कांग्रेस को कोरोना वैक्सीन और उत्तर भारतीयों पर अविश्वास

हरियाणा में कांग्रेस का अविश्वास प्रस्ताव ढेर, मनोहर लाल खट्टर सरकार को मिले 55 मत

- Advertisement -

चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा में कांग्रेस का अविश्वास प्रस्ताव (Haryana No Confidence Motion) पास नहीं हो पाया है। बीजेपी और जेजेपी (BJP-JJP) सरकार के पक्ष में 55 वोट पड़े हैं। ऐसे में साफ है कि हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर सरकार बची रहेगी। हरियाणा विधानसभा (Haryana Legislative Assembly) में अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग (Voting) से पहले सीएम मनोहर लाल खट्टर ने जमकर विपक्ष और कांग्रेस (Congress) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर निशाना साधा। मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि कांग्रेस को कोरोना वैक्सीन और उत्तर भारतीयों पर अविश्वास है। इन्हें सब जगह अविश्वास है। कांग्रेस को अपनी इस संस्कृति को बदलना चाहिए।

यह भी पढ़ें: जनआक्रोश रैलीः शुक्ला बोले- प्रदेश सरकार की उल्टी गिनती शुरु, वीरभद्र की नेताओं को नसीहत

विधानसभा में अविश्वास मत प्रस्ताव आने से पहले सीएम मनोहर खट्टर (CM Manohar Lal Khattar) ने कहा था कि उनके पास पूरा बहुमत (Majority) है और कांग्रेस यह कोशिश सफल नहीं होगी। इसके अलावा डिप्टी सीएम और जेजेपी प्रमुख दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा था कि सरकार जिस बहुमत के साथ बनी थी, उसी तरह अपना कार्यकाल भी पूरी करेगी। इसके अलावा विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव (No Confidence Motion) पर चर्चा के दौरान कांग्रेस नेता भूपेंद्र हुड्डा (Bhupendra Singh Hooda) ने कहा कि सरकार जनता में विश्वास खो चुकी है। सीएम का हेलिकॉप्टर कहीं भी लैंड नहीं हो पा रहा है। भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि मनोहर लाल खट्टर ने कोई रैली कर पा रहे हैं। बीजेपी (BJP) लगातार किसान आंदोलन को लेकर गलत बयानबाजी करती रही है, मंत्री किसानों (Farmers) को आतंकी-खालिस्तानी कह रहे हैं। हु्ड्डा ने अविश्वास प्रस्ताव के लिए सीक्रेट वोटिंग (Voting) होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें:  पश्चिम बंगाल चुनाव : दीदी ने नंदीग्राम से दाखिल किया नामांकन, सुवेंदु बोले- बाहरी हैं ममता बनर्जी

क्या था वोटिंग से पहले का गणित
हरियाणा विधानसभा (Haryana Legislative Assembly) में कुल 90 सीटें हैं, लेकिन मौजूदा वक्त में 88 विधायक (MLA) हैं। बहुमत के लिए 45 का आंकड़ा चाहिए, अविश्वास मत लाने वाली कांग्रेस के पास कुल 30 विधायक (Congress MLA) हैं। वहीं, सत्ता में बैठी बीजेपी के पास 40, सहयोगी दल जेजेपी के पास 10 और 5 निर्दलीय विधायकों (Independent MLA) का साथ है। यानी बीजेपी का दावा था कि सरकार के पास 55 विधायकों का समर्थन था। अब वोटिंग के बाद भी बीजेपी और जेजेपी सरकार का वही गणित बरकरार है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है