Covid-19 Update

2,65,734
मामले (हिमाचल)
2, 51, 423
मरीज ठीक हुए
3951*
मौत
40,371,500
मामले (भारत)
363,221,567
मामले (दुनिया)

विक्रमादित्य ने पीएम की सुरक्षा में चूक पर चिंता जताई तो रायजादा ने बीजेपी की असलियत बताई

बोले, बीजेपी की धोखाधड़ी के खिलाफ आवाज नहीं उठा सकते तो चुप ही रह लें

विक्रमादित्य ने पीएम की सुरक्षा में चूक पर चिंता जताई तो रायजादा ने बीजेपी की असलियत बताई

- Advertisement -

पड़ोसी राज्य पंजाब में पीएम नरेंद्र मोदी के सुरक्षा संबंधी प्रकरण की आंच से हिमाचल भी अछूता नहीं रहा है। शिमला ग्रामीण से कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने अपने फेसबुक पेज पर जैसे ही इस प्रकरण को छूने की कोशिश की तो दूसरी तरफ बिना समय गंवाए ऊना से कांग्रेस के ही विधायक सतपाल रायजादा ने उन्हें अपने फेसबुक पेज के जरिए करारा जवाब दे डाला । यानी पंजाब प्रकरण पर हिमाचल के दो कांग्रेसी विधायक आमने-सामने आ खड़े हुए हैं। आईए सबसे पहले आपको बताते हैं कि विक्रमादित्य सिंह ने अपने फेसबुक पेज पर क्या लिखा…

यह भी पढ़ें- Live : सीएम जयराम ठाकुर का बर्थडे यूं हो रहा सेलिब्रेट, पीएम मोदी ने दी बधाई

वैसे तो पंजाब सरकार पर टिप्पणी करना हमारे कार्य अधिकार से अलग है, मगर पिछले कल जो घटनाक्रम वहां पर हुए हैं वह बहुत चिंताजनक है, देश के प्रधानमंत्री वह चाहे किसी भी राजनीतिक दल से क्यों न हो ;हम भी उनकी और उनके दल की राजनीतिक सोच से बिलकुल भी इत्तेफ़ाक़ नहीं रखते। पीएम की सुरक्षा में इस तरीक़े का लैप्स हैरान करने वाला है, जिसकी पंजाब सरकार को तुरंत जांच करवानी चाहिए और जिन अधिकारियों की ओर से इसमें कमी पाई गई है, उनपर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए। प्रधानमंत्री के अंदर के सुरक्षा घेरे का ख्याल रखता है और जिस भी राज्य या देश में वह जाते हैं, बाहर का सुरक्षा घेरा उस राज्य और देश की सुरक्षा एजेंसियों द्वारा दिया जाता है। जो तर्क दिया गया है कि प्रधानमंत्री का हेलीकॉप्टर से सभा स्थल तक पहुंचने का कार्यक्रम था इसी लिए यातायात का इंतज़ाम पूर्ण रूप से नहीं किया गया था ठीक नहीं है क्योंकि हम जानते हैं जब इस स्तर के का कार्यक्रम होता है तो ऑल्टरनेट रूट भी तत्कालीन परिस्थिति में निष्क्रमण के लिए रखे जाते हैं ताकि किसी भी परिस्थिति में उन्हें वहां से सुरक्षित बाहर निकाला जा सके। कांग्रेस शासित राज्य होने के चलते प्रशासन को इस चीज़ का और ध्यान रखना चाहिए था कि इस तरह की कोई भी चूक प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में ना हों ताकि राजनीतिक दृष्टि से कोई उंगली न उठा सकेए अब चूक हुई है तो कार्रवाई भी निश्चित तौर से होनी चाहिए। इस घटनाक्रम को राजनीतिक दृष्टिकोण से देखने की कोई आवश्यकता नहीं।



सतपाल रायजादा ने दिया है ये जवाब

इसके जवाब में ऊना सदर से कांग्रेस के ही विधायक सतपाल रायजादा ने अपनी फेसबुक वॉल पर क्या लिखा आइए उस पर भी एक नजर डालते हैं- आज कांग्रेस पार्टी के नेता अपनी पार्टी और अपने नेतृत्व पर बिना सोचे समझे सवाल उठा देते है जब कि बीजेपी के नेता पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के साथ.साथ श्रीमती सोनिया गांधी और राहुल गांधी को और कांग्रेस पार्टी को गालियां निकाल रहे है। एक तरफ कार्यकर्ता हम जैसे नेताओ की लड़ाई लड़ते है अगर हम बीजेपी की धोखेधड़ी के खिलाफ आवाज नही उठा सकते और कार्यकर्ता का साथ नहीं दे सकते तो कम से कम चुप ही रह ले। उन्होंने लिखा है- कहां थे यह लोग जब 800 किसान मर गए। कहां थे यह लोग जब 45 फौजी श्रीनगर मे शहीद हुए कोई नहीं बोला तब और अगर कोई दोषी है खुद बीजेपी और इन के अमित शाह । कभी इन के नेताओं को देखा अपने नेताओं का विरोध करते, भाई हम को बीजेपी द्बारा लगाए आरोपो के दुरुपयोग के खिलाफ लड़ाई लड़नी हे ना कि अपनों के खिलाफ। तो इस तरह पंजाब मामले पर हिमाचल के दो कांग्रेसी विधायक फेसबुक के मैदान पर आमने-सामने आए हैं।


मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा

बता दें कि पीएम मोदी के पंजाब दौरे के दौरान सुरक्षा में हुई चूक का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना के समक्ष मेंशन किया गया है। सुप्रीम कोर्ट मामले पर कल सुनवाई को राजी हुआ है । याचिका की कॉपी राज्य सरकार को भेजी जाएगी मामले पर सुप्रीम कोर्ट कल सुनवाई होगी। गृह मंत्री अमित शाह ने इस मामले में पंजाब सरकार से रिपोर्ट भी मांगी है। ऱाष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी सुरक्षा में हुई चूक के मसले पर चिंता जताई है । आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए इस मामले पर सियासत भी जमकर हो रही है। कांग्रेस और बीजेपी में आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। पंजाब सरकार ने मसले की जांच के लिए हाई-लेवल कमेटी बनाई है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है