Covid-19 Update

2, 84, 982
मामले (हिमाचल)
2, 80, 760
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,128,786
मामले (भारत)
525,038,134
मामले (दुनिया)

पाकिस्तान के 124 किलोमीटर अंदर गिरी इंडियन आर्मी की मिसाइल, फिर क्या हुआ…पढ़े यह खबर

भारत ने मानी अपनी गलती, कोई विस्फोटक ना होने से ज्यादा बड़ा नहीं हुआ हादसा

पाकिस्तान के 124 किलोमीटर अंदर गिरी इंडियन आर्मी की मिसाइल, फिर क्या हुआ…पढ़े यह खबर

- Advertisement -

भारत (India) की एक मिसाइल पाकिस्तान के इलाके में 124 किलोमीटर अंदर गिरी। इंडियन डिफेंस मिनिस्ट्री (Indian Defense Ministry) ने शुक्रवार शाम जारी बयान में कहा कि यह घटना एक्सीडेंटल फायरिंग की वजह से हुई। 9 मार्च 2022 को रूटीन मेंटेनेंस के दौरान टेक्निकल वजहों से यह घटना हुई। सरकार ने मामले को गंभीरता से लिया है और कोर्ट ऑफ इन्क्वॉयरी (Court Of Inquiry) के ऑर्डर जारी कर दिए गए हैं। घटना पर हम दुख जताते हैं। अच्छी बात यह है कि इस एक्सीडेंटल फायरिंग की वजह से किसी तरह की जनहानि नहीं हुई।

यह भी पढ़ें:निर्वासित तिब्बती सरकार के पीएम बोले- तिब्बत की आजादी के लिए चीन पर दबाव बनाए अमेरिका

कैसे सामने आया मामला

पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) के मीडिया विंग इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशन्स के डीजी मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने गुरुवार शाम एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस घटना का खुलासा किया था। बाबर ने कहा था कि भारत की तरफ से जो चीज हमारे देश पर दागी गई, उसे आप सुपर सोनिक फ्लाइंग ऑब्जेक्ट या मिसाइल (Missile) कह सकते है। इसमें किसी तरह के हथियार या बारूद नहीं था। लिहाजा, किसी तरह की तबाही नहीं हुई। बाबर की प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले, पाकिस्तानी मीडिया में इस तरह की खबरें थीं कि भारत का कोई प्राइवेट एयरक्राफ्ट मियां चन्नू इलाके में क्रैश हुआ है। पाकिस्तानी फौज भी घटनास्थल मुल्तान के पास मियां चन्नू इलाका ही बता रही थी।

 

बाबर का बयान

डीजी आईएसपीआर ने कहा कि 9 मार्च को शाम 6ः43 पर बेहद तेज रफ्तार से एक मिसाइल भारत (India) से पाकिस्तान की तरफ दागी गई। हमारे एयर डिफेंस सिस्टम ने इसे पकड़ लिया, लेकिन यह तेजी से मियां चन्नू इलाके में गिरी। भारत से पाकिस्तान पहुंचने में इसे 3 मिनट लगे। कुल 124 किलोमीटर दूरी तय की गई। 6ः50 पर यह क्रैश हुई। कुछ घरों और प्रॉपर्टी को नुकसान हुआ। यह मिसाइल भारत के सिरसा से दागी गई थी।

फ्लाइट मैप की जानकारी मिली

बाबर ने कहा कि हमारी टीम ने इस मिसाइल के फ्लाइट रूट (Flight Route) का पता लगा लिया है। यह बेहद खतरनाक कदम है, क्योंकि जिस वक्त यह मिसाइल फायर की गई, उस वक्त भारत और पाकिस्तान के एयरस्पेस में कई फ्लाइट ऑपरेशनल थीं और कोई बड़ा हादसा हो सकता था। हम इसे गंभीरता से ले रहे हैं और भारत से मांग करते हैं कि वो इस मामले पर सीधा जवाब दे। इसके पहले उनकी सबमरीन्स कराची के पास देखी गईं थीं। फिलहाल, हमें भारत के जवाब का इंतजार है। इसके बाद ही डीटेल्स दी जाएगी। अब भारत ने पुष्टि कर दी है कि यह मिसाइल गलती से फायर हो गई थी।

कौन सी थी मिसाइल

पाकिस्तान के जर्नलिस्ट मोहम्मद इब्राहिम काजी ने सोशल मीडिया (Social Media) पर दावा किया कि भारत से छोड़ी गई मिसाइल का नाम ब्रह्मोस है। इसकी रेंज 290 किलोमीटर है। इंडियन एयरफोर्स इसका स्टॉक राजस्थान के श्रीगंगानगर में रखती है। हालांकि, पाकिस्तानी फौज का दावा है कि यह मिसाइल हरियाणा के सिरसा से दागी गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है