हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

IndVsSri T20: धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम में तैयारियों जोरों पर, ओस बिगाड़ेगी खेल

भारत-श्रीलंका के बीच टी20 मैच 26 और 27 फरवरी को

IndVsSri T20: धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम में तैयारियों जोरों पर, ओस बिगाड़ेगी खेल

- Advertisement -

धर्मशाला। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम धर्मशाला ( Dharamsala Cricket Stadium) एक बार से चौके और छक्कों की बरसात करने के लिए तैयार हो रहा है। भारत-श्रीलंका के बीच 26 और 27 फरवरी को खेले जाने वाले टी20 मैचों को लेकर एचपीसीए (HPCA) ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। ग्राउंड तैयार करने के लिए बहुत कम समय बचा है। इसी के चलते एचपीसीए ने नागपुर (Nagpur) से खाद मंगवाई है। 20 फरवरी तक ग्राउंड को मैच के लिए तैयार कर दिया जाएगा। घास को गर्माहट के लिए केमिकल व आर्गेनिक फर्टीलाइजर का इस्तेमाल किया जा रहा है। हालांकि पूर्व में हिमाचल (Himachal) में निर्मित वर्मी कम्पोस्ट और नीमखली का भी इस्तेमाल किया जाता था।

यह भी पढ़ें- भारत-श्रीलंका टी-20 मैच, सफल आयोजन को एचपीसीए कल इंद्रूनाग से लेगा आशिर्वाद

दो पिचों पर होंगे अंतरराष्ट्रीय मैच

एचपीसीए के चीफ पिच क्यूरेटर सुनील चौहान ने बताया कि स्टेडियम में 9 पिच हैं, जिनमें से सेंटर की 2 पिच को अंतरराष्ट्रीय मैच (International Matches) के लिए तैयार किया जाता है, उसी तरह इस मर्तबा भी 2 पिच तैयार की जाएंगी। प्रेक्टिस के लिए भी 8 के करीब पिच तैयार की जाएंगी। अन्य स्टेडियम के दौरे के दौरान पता चला कि नागपुर की एक खाद बेहतर है, जिस पर नागपुर की फर्म से संपर्क करके विशेष तौर पर खाद मंगवाई गई है। चौहान ने कहा कि धर्मशाला स्टेडियम की आउटफील्ड (Outfield) में बरमूडा सिलेक्शन वन घास है, जिसे गर्माहट की जरूरत होती है। गर्मियों में तो यह घास बेहतर रहता है। वर्तमान में सर्दियों का मौसम होने के चलते गर्माहट के लिए केमिकल और आर्गेनिक फर्टीलाइजर का इस्तेमाल किया जा रहा है। ग्राउंड को मैच के लिए अच्छा बनाने का प्रयास किया जाएगा।

खेल में ओस डालेगी खलल

धर्मशाला में भारत-श्रीलंका के बीच खेले जाने वाले मैचों में ओस खिलाड़ियों के लिए परेशानी बन सकती है। शाम को सात बजे शुरू होने वाले मैच में पहली और दूसरी पारी में ओस की स्थिति मैच को बदलने का काम करेगी। धौलाधार की पहाड़ियों पर बिछी बर्फ की सफेद चादर के कारण शाम के समय धर्मशाला का तापमान 10 डिग्री सेल्सियस पहुंच जाता है। जैसे.जैसे रात होती है तो तापमान और कम हो जाता है। इसके लिए मैदान में गेंदबाजों को गेंद फेंकने और क्षेत्ररक्षकों को क्षेत्ररक्षण करने में परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। जानकारों की मानें तो मैच के दौरान अगर मौसम साफ रहता है तो शाम को ओस पड़ेगी। अगर आसमान में बादल रहते हैं तो ओस बहुत कम रहेगी। अगर फरवरी के अंत में धर्मशाला में टी.20 मैच होते हैं तो इस दौरान ओस का प्रभाव अधिक रहेगा। इस कारण मैदान पर पड़ी ओस को बार.बार साफ करना पड़ेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है