×

कामधेनु आयोग ने पेश की गाय के गोबर की #Chip: कहा- रोक सकता है रेडिएशन, मोबाइल में हो इस्तेमाल

बताया- गाय के गोबर से सबकी रक्षा होगी, ये ऐंटी-रेडिएशन है

कामधेनु आयोग ने पेश की गाय के गोबर की #Chip: कहा- रोक सकता है रेडिएशन, मोबाइल में हो इस्तेमाल

- Advertisement -

नई दिल्ली। गौमूत्र और गाय (Cow) को लेकर कई तरह के दावे किए जाते हैं लेकिन इनपर अकसर विवाद उठ जाता है। इसी कड़ी में मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (National Kamadhenu Commission) के चेयरमैन ने गाय के गोबर को लेकर एक अलग दावा किया है। राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के अध्यक्ष वल्लभभाई कथीरिया ने सोमवार को गाय के गोबर से बनी चिप पेश की। इस दौरान कथीरिया ने कहा है कि गाय का गोबर (cow dung) रेडिएशन (radiation) रोक सकता है, जिसका इस्तेमाल मोबाइल में होना चाहिए। बकौल कथीरिया, ‘गाय के गोबर से सबकी रक्षा होगी, ये ऐंटी-रेडिएशन है। घर में आएगा तो पूरा घर रेडिएशन मुक्त हो जाएगा।’


अक्षय कुमार ने गोबार खाया- आप भी खा सकते हैं

उन्होंने कहा कि हमने देखा है कि यह चिप मोबाइल में रखने से रेडिएशन काफी मात्रा में कम हो जाता है। कथीरिया ने कहा, आपने कुछ दिन पहले सुना होगा कि अभिनेता अक्षय कुमार- उन्होंने गाय का गोबर खाया है। आप इसे खा सकते हैं। यह एक दवा है। लेकिन हम अपने विज्ञान को भूल गए हैं। उन्होंने कहा, अब हमने एक शोध परियोजना शुरू की है। हम इन विषयों पर शोध करना चाहते हैं जिन्हें हम एक मिथक मानते हैं। गाय के गोबर से बने अन्य उत्पादों को प्रदर्शित करते हुए आरकेए के अध्यक्ष ने कहा, गाय का गोबर एंटी रेडिएशन है। यह सभी की रक्षा करता है, यदि आप इसे घर लाते हैं तो आपका स्थान रेडिएशन फ्री हो जाएगा। यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है।

यह भी पढ़ें: हाईटेक हुआ #Aadhaar: नहीं गलेगा-सालों चलेगा, सिर्फ 50 रुपए में ऑर्डर कीजिए; जानें प्रक्रिया

इस कार्यक्रम के दौरान कामधेनु आयोग ने गाय के गोबर से बने कई दूसरे प्रॉडक्ट भी लॉन्च किए, जिनका लक्ष्य इस दीवाली पर प्रदूषण कम करने का है। दरअसल, इस दीवाली पर चीन निर्मित उत्पादों का बहिष्कार सुनिश्चित करने और गाय के गोबर से बने दीयों और भगवान गणेश और लक्ष्मी की प्रतिमाओं सहित कई दूसरी सामग्रियों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने ‘कामधेनु दीपावली अभियान’ चलाने की घोषणा की है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखने के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है