Covid-19 Update

2,2,003
मामले (हिमाचल)
2,22,361
मरीज ठीक हुए
3,830
मौत
34,572,523
मामले (भारत)
261,511,846
मामले (दुनिया)

धरती के इस हिस्से पर काम नहीं करता न्यूटन का यह लॉ, जानें क्यों?

धरती पर यहां हवा में उड़ने लगती हैं चीजें

धरती के इस हिस्से पर काम नहीं करता न्यूटन का यह लॉ, जानें क्यों?

- Advertisement -

नई दिल्ली। ग्रेविटी नाम तो सुना होगा। वह चेप्टर जहां से एक्चुअली में फिजिक्स की शुरुआत हुई। इसकी कहानी भी बड़ी दिलचस्प है। सेब का सर आईजेक न्यूटन के सिर पर गिरना। जिसके बाद महान वैज्ञानिक ने लॉ ऑफ मोशन की खोज कर दी थी। आज हम आपको ग्रेविटी से जुड़ी ही एक और दिलचस्प कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं।

वैसे तो ग्रेविटी (Gravity) की कमी के कारण स्पेस (Space) में चीजों को हवा में उड़ना तो आम बात लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि धरती पर ऐसी जगह है जहां ग्रेविटी (Gravity) न के बराबर काम करती है। यहां जब कोई चीज ऊंचाई से नीचे फेंकी जाती है तो वो जमीन पर नीचे नहीं गिरती बल्कि हवा में उड़ने लगती है। ऐसी घटना को देखकर साइंटिस्ट (Scientist) भी हैरान हैं।

यह भी पढ़ें: खतरे की घंटी: हमें और आपको अंधेरे में रख रही हैं दुनिया भर की सरकारें, हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं

अमेरिका के हूवर डैम में ग्रेविटी काम नहीं करती है। हूवर डैम अमेरिका के नेवादा और एरिजोना राज्य की सीमा पर स्थित है। हूवर डैम कोलोराडो नदी पर बना है। बताया जाता है कि हूवर डैम की बनावट ऐसी है कि वहां चीजें हवा में उड़ने लगती है। उनपर ग्रैविटी का लॉ फेल हो जाता है। हूवर डैम की ऊंचाई 726 फीट है। हूवर डैम के बेस की मोटाई 660 फीट है जो फुटबॉल के दो मैदानों के बराबर है।

हूवर डैम जिस नदी पर बना है उसका नाम कोलोराडो नदी है, जिसकी लंबाई 2334 किलोमीटर लंबी है। बता दें कि अमेरिका में हूवर डैम का निर्माण 1931 से 1936 के बीच हुआ था। हूवर डैम का नाम अमेरिका के 31वें राष्ट्रपति हर्बर्ट हूवर के नाम पर रखा गया था। बता दें कि धनुष के आकार में बने होने के कारण यहां चलने वाली हवा डैम की दीवार से टकराकर नीचे से ऊपर की तरफ चलती है। इसीलिए हूवर डैम से नीचे फेंकी गई चीजें जमीन पर नहीं गिरती हैं बल्कि हवा में उड़ने लगती हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है