Covid-19 Update

58,979
मामले (हिमाचल)
57,428
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,173,761
मामले (भारत)
116,220,912
मामले (दुनिया)

Panchayat Election: यहां बैलेट पेपर पर ही लिख डाले मतदाताओं के नाम, मतपेटियां सील

धर्मपुर उपमंडल की ग्राम पंचायत संधोल में सामने आया मामला

Panchayat Election: यहां बैलेट पेपर पर ही लिख डाले मतदाताओं के नाम, मतपेटियां सील

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल के जिला मंडी (Mandi) के धर्मपुर उपमंडल के तहत आने वाली ग्राम पंचायत संधोल में चुनाव करवाने गई टीम ने ऐसा कारनामा कर दिया कि अब यहां मतगणना (Counting) को रोककर सभी मतपेटियों को सील करके स्ट्रांग रूम में रखना पड़ा है। संधोल पंचायत के वार्ड नंबर 5 में मतदान करवाने गई टीम हर बैलेट पेपर (Ballot Paper) पर प्रत्याशियों के नामों के साथ-साथ मतदाताओं के नाम भी लिख रही थी। यह प्रक्रिया सुबह से ही जारी थी और यहां दिन भर में जितने भी वोट पड़े उन सभी पर मतदाताओं के नाम लिखे गए हैं। शाम के समय एक मतदाता ने जब इस प्रक्रिया को देखा तो उसे यह अनुचित लगा और उसने इसकी शिकायत चुनाव आयोग (Election Commission) के संबंधित अधिकारियों से की।

यह भी पढ़ें: Solan: अर्की में धैणा वार्ड ने किया पंचायत चुनाव का बहिष्कार, बूथ पर नहीं पड़ा एक भी मत

एसडीएम धर्मपुर सुनील वर्मा (SDM Dharampur Sunil Verma) के ध्यान में जैसे ही मामला आया तो उन्होंने तुरंत प्रभाव से एक टीम पंचायत में भेजकर मामले की जांच करवाई तो शिकायत सही पाई गई। मौके पर पहुंची टीम ने पूरी पंचायत की सभी मतपेटियों को तुरंत प्रभाव से सील करके उन्हें धर्मपुर स्थित स्ट्रांग रूम में सुरक्षित रख दिया है। एसडीएम धर्मपुर सुनील वर्मा ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच में सिर्फ वार्ड नंबर 5 में ही यह बात सामने आई है, जबकि अन्य वार्डों में ऐसा नहीं हुआ है। इस संदर्भ में डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर और चुनाव आयोग के उच्चाधिकारियों को सूचित कर दिया गया है। वहां से जो आदेश आएंगे उसी आधार पर आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।अनुमान लगाया जा रहा है कि शायद वार्ड नंबर पांच में फिर से मतदान करवाया जाएगा। क्योंकि यह हरकरत सिर्फ इसी वार्ड में हुई है। बता दें कि धर्मपुर उपमंडल में पंचायत प्रधान के चुनाव का मामला हाईकोर्ट (High Court) में जाने के चलते यहां पर प्रधान पद के लिए चुनाव नहीं हुआ है। यहां उपप्रधान, वार्ड सदस्य, बीडीसी और जिला परिषद के लिए वोट डाले जा रहे हैं। जिस वार्ड में यह कारनामा हुआ है उस वार्ड में हर बैलेट पेपर पर मतदाताओं के नाम लिखे जा रहे थे। मतगणना के दौरान यह स्पष्ट हो जाना था कि किस मतदाता ने किस प्रत्याशी को अपना वोट दिया, जबकि मतदान को पूरी तरह से गोपनीय रखा जाता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है