×

Budget Session: 9 करोड़ निजी ऑपरेटरों और 220 करोड़ एचआरटीसी पर एसआरटी बकाया

रोहड़ू से दिल्ली के लिए वोल्बो बस सेवा चलाने का कोई विचार नहीं

Budget Session: 9 करोड़ निजी ऑपरेटरों और 220 करोड़ एचआरटीसी पर एसआरटी बकाया

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान विधायक होशियार सिंह के एक सवाल पर जबाव देते हुए परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह (Transport Minister Bikram Singh) ने बताया कि हिमाचल में नौ करोड़ निजी ऑपरेटरों और 220 करोड़ का एचआरटीसी पर स्टेट रोड टैक्स  (SRT) बकाया है। प्रदेश के 641 निजी बस ऑपरेटर (Private bus Operator) और एचआरटीसी के 27 यूनिट स्टेट रोड टैक्स (एसआरटी) नहीं चुकाने पर डिफाल्टर बन गए हैं। साढ़े 46 हजार डिफाल्टरों ने 9359 लाख का टोकन टैक्स भी जमा नहीं करवाया है। बिक्रम सिंह ने कहा कि वर्ष 2020 में कोरोना (Corona) संकट के चलते वसूली में कमी आई है। जल्द टैक्स वसूली के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। मंत्री ने बताया कि स्टेट रोड और टोकन टैक्स की वसूली के लिए डिफाल्टरों को समय.समय पर नोटिस दिए गए। मोटर व्हीकल इंस्पेक्टरों से सभी टैक्स चुकाने वाली गाड़ियों को ही फिटनेस मंजूरी देने के लिए कहा गया है।


 

उन्होंने बताया कि गाड़ियों से संबंधित किसी भी प्रकार की सुविधा देने से पहले विभाग वाहन सॉफ्टवेयर के माध्यम से बकाया टैक्स जांचता है। टैक्स जमा करवाने के लिए एसएमएस भेजे जाते हैं। सोलन आरटीओ के तहत 33, नालागढ़ में 12, हमीरपुर 7, ऊना 27, कुल्लू 12, चंबा 54, बिलासपुर 38, नाहन 41, धर्मशाला 175, शिमला 71, रामपुर 18 और मंडी आरटीओ के तहत 153 निजी बस ऑपरेटरों ने नौ करोड़ का एसआरटी नहीं चुकाया है। एचआरटीसी के परवाणू, डीडब्ल्यू शिमला, लोकल, नाहन, रोहड़ू, रिकांगपिओ, रामपुर, ग्रामीण, सोलन, तारादेवी/नेरवा, करसोग, हमीरपुर, बिलासपुर, नालागढ़, देहरा, ऊना, धर्मशाला, बैजनाथ, चंबा, पठानकोट, पालमपुर, नगरोटा, मंडी, केलांग, कुल्लू, सरकाघाट और सुंदरनगर यूनिट पर 220 करोड़ का एसआरटी बकाया है।

एचआरटीसी में चालकों व परिचालकों के 1439 पद रिक्त

हिमाचल विधानसभा के बजट सत्र ( Budget Session of Himachal vidhansabha) में प्रश्नकाल के दौरान परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ( Transport Minister Bikram Singh Thakur)ने कहा कि एचआरटीसी( HRTC) में चालकों व परिचालकों के 1439 पद रिक्त हैं। इनमें चालकों के 640 और परिचालकों के 799 रिक्त पद शामिल हैं। हालांकि चालकों के 400 रिक्त पदों व परिचालकों के 568 रिक्त पदों को भरने के लिए चयन प्रक्रिया चल रही है। यह जानकारी उन्होंने रोहड़ू के विधायक मोहन लाल ब्राक्टा द्वारा पूछे गए सवाल के लिखित जवाब में दी।

यह भी पढ़ें :-Budget Session:सीएम बोले- विपक्षी विधायकों का निलंबन सही, राज्यपाल की गरिमा सर्वोपरि

परिवहन मंत्री ने बताया कि एचआरटीसी के 34 डिपो में चालकों के कुल स्वीकृत पद 4584 हैं। इनमें 3944 चालक उपलब्ध हैं। जबकि 640 पद रिक्त हैं। इसी तरह एचआरटीसी के 33 डिपो में परिचालकों के स्वीकृत पद 4498 हैं और इनमें 3699 परिचालक उपलब्ध हैं। वहीं 799 पद खाली हैं।परिवहन मंत्री ने बताया कि बीते 3 वर्षों में एचआरटसी में 50 विद्युत संचालित बसों और तीन टैंपो ट्रैवलर की खरीद हुई है। 50 विद्युत संचालित बसें स्थानीय क्षेत्र ढली के लिए आबंटित की गई हैं। जबकि तीन टैंपो ट्रैवलर केलंग क्षेत्र को जनजातीय क्षेत्र में परिचालन के लिए आबंटित किए गए हैं। इस अवधि में रोहड़ू क्षेत्र को कोई भी नई बस आबंटित नहीं की गई। वर्तमान में रोहड़ू में 8 बसों की कमी चल रही है।विक्रम सिंह ठाकुर ने बताया कि वर्तमान परिस्थितियों में रोहड़ू से दिल्ली के लिए वोल्बो बस सेवा चलाने का कोई विचार नहीं है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है