×

टूटा गतिरोधः 5 कांग्रेसी विधायकों का निलंबन निरस्त, सदन में लौटे कांग्रेसी विधायक

स्पीकर के चैंबर में हुई थी बैठक, सीएम भी थे मौजूद

टूटा गतिरोधः 5 कांग्रेसी विधायकों का निलंबन निरस्त, सदन में लौटे कांग्रेसी विधायक

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र (Budget Session of Himachal Pradesh vidhansabha) के दौरान सत्ता पक्ष व विपक्ष पिछले पांच दिन से चला गतिरोध आज समाप्त हो गया। विधानसभा में चल रहे गतिरोध को लेकर स्पीकर के चैम्बर में बुलाई गई बैठक सार्थक रही है और गतिरोध को तोड़ने की सहमति बनी है। इसके बाद बजट सत्र से निलंबित किए गए नेता प्रतिपक्ष सहित पांच विधायकों के निलंबन निरस्त ( Suspension revoked) कर दिया गया है।निलंबन निरस्त होने के बाद नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री सहित पांचों विधायकों ने सदन में प्रवेश किया। विपक्ष ने मेज थपथपा कर उनका स्वागत किया।


इससे पहले संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने सदन में प्रस्ताव लाया गया। उन्होंने कहा कि सदन के नेता व सीएम जयराम ठाकुर( CM Jairam Thakur) के निर्देश पर कांग्रेस के पांच विधायकों को निलबिंत किया गया था। अब नियम 319 के तहत उनके निलंबन के वापस लेते हैं।सुरेश भारद्वाज ने सदन में कहा कि विपक्ष के विधायकों और सत्तापक्ष के मंत्रियों के बीच वार्ता हुई है और सभी ने निलंबन को निरस्त करने की बात रखी है। इसके बाद कांग्रेस विधायक आशा कुमारी ने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर ने सूझबूझ से विवाद को खत्म करने का निर्णय लिया है जिसका विपक्ष स्वागत करता है क्योंकि लोकतंत्र पक्ष और विपक्ष से चलता है। प्रस्ताव पर ठाकुर रामलाल, कर्नल धनी राम शांडिल और सुखविंदर सिंह सुखू ने कहा कि सदन की कार्यवाही शांतिपूर्ण ढंग से चलनी चाहिए और पक्ष और विपक्ष दोनों को इसमें सहयोग देना चाहिए।

यह भी पढ़ें: गतिरोध को खत्म करने के लिए स्पीकर चैंबर में बैठक शुरु. सीएम भी मौजूद

सीएम बोले- नोक-झोंक होती रहती है

प्रस्ताव में चर्चा में भाग लेते हुए सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि कभी- कभी पक्ष और विपक्ष में नोक-झोंक होती रहती है लेकिन विवाद को बढ़ाना भी लोकतंत्र के लिहाज से सही नहीं है। विवाद का समाधान हमेशा संवाद होता है इसलिए आज पहल हुई और वार्ता सफल भी रही। लोकतंत्र में विपक्ष का सदन में होना जरूरी है। यह लोकतंत्र की खूबी है।विधानसभा अध्यक्ष ने निलंबित विधायकों के निलंबन को निरस्त करने के लिए लाए प्रस्ताव पारित किया ,जिसमें सभी ने सहमति जताई और नेता प्रतिपक्ष सहित सभी 5 विधायकों का निलंबन निरस्त किया गया।विधानसभा अध्यक्ष ने निलंबित विधायको के निलंबन को निरस्त करने के लिए लाए प्रस्ताव पारित किया जिसमें सभी ने सहमति जताई और नेता प्रतिपक्ष सहित सभी 5 विधायकों का निलंबन निरस्त किया गया।इससे पहले सदन में गतिरोध को खत्म करने के लिए विस अध्यक्ष विपिन परमार के चैबर में बैठक हुई। विस अध्यक्ष विपिन परमार के चैबर में हुई इस बैठक में सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) के अलावा संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज, जल शक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह मौजूद रहे। विपक्ष की तरफ से पांच सदस्य, आशा कुमारी, सुखविंदर सिंह, जगत सिंह नेगी, रामलाल ठाकुर, कर्नल धनी राम शांडिल इस बैठक में शामिल रहे। इसके अलावा माकपा विधायक राकेश सिंघा भी मौजूद थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है