Covid-19 Update

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

बैंक लॉकर में मिला 500 करोड़ का शिवलिंग, कहां का है, जांच में जुटी पुलिस

चेन्नई में एक टिप पर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

बैंक लॉकर में मिला 500 करोड़ का शिवलिंग, कहां का है, जांच में जुटी पुलिस

- Advertisement -

देवी-देवताओं के चमत्कारों के बारे में आपने कई बार सुना होगा और देखा भी होगा। हमारे घरों में देवी-देवताओं की फोटो और मूर्तियां होती है। इसके लिए घर में मंदिर भी बनाए होते है। इसके अलावा जहां पैसे रखे हैं वहां मां लक्ष्मी (Maa Lakshmi) की मूर्ति भी रखी जाती है। अब हम आपको ऐसा किस्सा सुनाने जा रहे है, जिसे सुन कर आप हैरान रह जाएंगे। चेन्नई (Chennai) के तंजावुर में पुलिस ने एक आदमी के बैंक लॉकर (Bank Locker) से शिवलिंग बरामद किया है। यह कोई आम शिवलिंग नहीं है। इसकी कीमत करोड़ों में है। आइए हम आपको इस केस में पूरी डिटेल बताते हैं।


यह भी पढ़ें: बैंकों को मिली लॉकर खोलने की मंजूरी, 1 जनवरी से लागू होंगे ये नए नियम

500 करोड़ का पन्ना लिंगम बरामद

तंजावुर (Tajavur) में पुलिस ने एक आदमी के बैंक लॉकर से पन्ना लिंगम बरामद किया हैए जिसकी कीमत 500 करोड़ रुपए तक की आंकी जा रही है। आपको बता दें कि इस केस को हेड करने वाले जयंत मुरली ने शुक्रवार को चेन्नई में इस बारे में रिपोर्टर्स को जानकारी दी कि उन्हें एक टिप मिली थी। टिप मिलने के बाद जब वो छानबीन करने पहंचे तो तंजावुर में एक आदमी के गर से एंटीक आइडल्स बरामद हुए।

बेटे को नहीं पता, कहां से आया यह शिवलिंग

दूसरे पुलिस सुप्रिंटेंडेंट्स आर राजाराम और पी असोक नटराजन के नेतृत्व में ऑफिसर्स की टीम ने गुरुवार को तंजावुर के अरुलानंदा नगर स्थित 7वीं क्रॉस स्ट्रीट स्थित लंगवाल होम्स की तलाशी ली। वहा उन्हें घर में 80 साल की आसपास की उम्र के एनए समीयप्पन के बेटे एनएस अरुण से पूछताछ की। अरुण ने पुलिस (Police) को बताया कि एक बैंक लॉकर में एंटीक पन्ना शिवलिंग (Shivling) रखा था, जिसके बाद उसे जांच के लिए पुलिस के हवाले कर दिया गया। लिंगम का वजन 530 ग्राम है और इसकी हाइट 8 सेमी है। अरुण ने इस बात का दावा किया है कि उन्हें नहीं पता है कि समीयप्पन को ये एंटीक पीस कहां से और कैसे मिला है। उसने कहा है कि जेमोलॉइस्ट ने उस आइडल की कीमत करीब 500 करोड़ रुपए तक की आंकी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने कहा कि अभी साइंटिफिट एनालिसिस करना बाकी है और ये भी पता करना है कि ये किस मंदिर का है। मुरुगेसन के पुलिस इंस्पेक्टर की रिपोर्ट के आधार पर केस रजिस्टर कर लिया गया है। हालांकिए इंडिया प्राइड प्रोजेक्ट के फाउंडर एस विजय कुमार ने 500 करोड़ रुपए के इस आंकलन को मिथ बताया है।

तिरुकुवलई में स्थित शिव मंदिर से गायब हुआ था लिंगम

पुलिस इस बात की छानबीन कर रही है कि कहीं ये वहीं लिंगम तो नहीं जो साल 2016 में नागापट्टिनम के तिरुकुवलई में स्थित शिव मंदिर से गायब हुआ था। एक सीनियर ऑफिसर का कहना है कि समीयप्पन इंवेस्टिगेशन के साथ कॉपरेट कर रहे है और बैकग्राउंड की इंक्वायरी भी कर रहे है। लिंगम को कंबकोणम कोर्ट में प्रस्तुत किया गया

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है