Covid-19 Update

2,22,890
मामले (हिमाचल)
2,17,495
मरीज ठीक हुए
3,721
मौत
34,200,957
मामले (भारत)
244,634,716
मामले (दुनिया)

हिमाचल: प्री प्राइमरी स्कूलों में NTT को 70 फीसदी और आंगनबाड़ी वर्करों को 30 फीसदी कोटा

प्री प्राइमरी स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए विभाग ने जारी किया कोटा

हिमाचल: प्री प्राइमरी स्कूलों में NTT को 70 फीसदी और आंगनबाड़ी वर्करों को 30 फीसदी कोटा

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के प्री प्राइमरी स्कूलों (Pre Primary School) में शिक्षक भर्ती के लिए नर्सरी टीचर ट्रेनिंग (NTT) करने वालों को 70 फीसदी और आंगनबाड़ी वर्करों को 30 फीसदी पद दिए जाएंगे। इसके चलते हिमाचल के चार हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षक भर्ती को आरएंडपी नियम बनाने का काम शुरू हो गया है। शिक्षा सचिव राजीव शर्मा की अध्यक्षता में शुक्रवार को राज्य सचिवालय में शिक्षा और महिला एवं बाल विकास विभाग की बैठक हुई।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: 947.47 करोड़ रुपए के निवेश को मिली मंजूरी, 4442 लोगों को मिलेगा रोजगार

एनटीटी को मिला 70 फीसदी कोटा

वहीं, इस बैठक में निर्णय लिया गया कि सरकारी स्कूलों में चलाई जा रही नर्सरी और केजी की कक्षाओं के लिए भर्ती में एनटीटी कोटे के 70 फीसदी पदों में से 35 फीसदी पद बैचवाइज और 35 फीसदी पद सीधी भर्ती से भरे जाएंगे। वहीं, एनसीटीई के नियमों के तहत यह भर्ती की जाएगी। शिक्षा विभाग इस बाबत प्रस्ताव बनाकर राज्य मंत्रिमंडल की मंजूरी के लिए लेकर जाएगा।

एनटीटी कर चुकी महिलाओं ने किया था प्रदर्शन

मालूम हो कि एनटीटी कर चुकी महिलाएं बीते लंबे समय से उन्हें ही इन स्कूलों में नियुक्ति देने की मांग कर रही हैं। जबकि आंगनबाड़ी वर्कर भी नियुक्ति की मांग को लेकर राज्य में संघर्षरत हैं। दोनों ही संगठनों की ओर से विधानसभा के बजट सत्र के दौरान प्रदर्शन भी किए थे। जिसके बाद विभाग पर दबाव पड़ा। और विभागीय अधिकारियों ने नर्सरी टीचर ट्रेनिंग करने वालों के साथ आंगनबाड़ी वर्करों को भी भर्ती में शामिल करने का फैसला लिया है।

 

शिक्षा विभाग द्वारा तैयार किए गए मसौदे में दस विद्यार्थियों से अधिक संख्या वाले स्कूलों में शिक्षक भर्ती करने और शिक्षकों के लिए आयु सीमा 18 से 45 वर्ष तय करने की सिफारिश भी की गई है। इस बैठक में समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक डॉ. वीरेंद्र शर्मा, महिला एवं बाल विकास निदेशक राखिल काहलो सहित कई अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है