हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022

BJP

0

INC

0

अन्य

0

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

हिमाचल में सबसे ज्यादा मतदान केंद्र कांगड़ा में,सबसे कम 92 लाहुल-स्पीति में

भरमौर के 26-चस्क भटोरी पहुंचने को पोलिंग पार्टी को चलना पड़ता है 14 किमी पैदल

हिमाचल में सबसे ज्यादा मतदान केंद्र कांगड़ा में,सबसे कम 92 लाहुल-स्पीति में

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल में अगले कुछ दिन बाद विधानसभा चुनाव (Vidhan Sabha Election) के लिए मतदान होगा। इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। प्रदेश भर में इसके लिए 7881 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इन मतदान केंद्रों में 7235 ग्रामीण क्षेत्रों में हैं, जबकि शहरी मतदान केंद्रों की संख्या 646 है। यह जानकारी शनिवार को निर्वाचन विभाग के एक प्रवक्ता ने दी। उन्होंने बताया कि सबसे अधिक 1625 मतदान केंद्र कांगड़ा जिला में हैं। जबकि, सबसे कम 92 लाहुल स्पीति जिला में बनाए गए हैं।

यह भी पढ़ें:इस बार हिमाचल में कुल 55,92, 828 मतदाता करेंगे चुनाव में मतदान

राज्य में तीन सहायक मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें धर्मशाला का 66 (क) सिद्धबाड़ी, बैजनाथ का 99 (क) बड़ाभंगाल तथा कसौली का 99 (क) ढिल्लों शामिल हैं। कांगड़ा (Kangra) जिला के धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत सिद्धबाड़ी मतदान केन्द्र में सर्वाधिक 1511 मतदाता हैं जबकि किन्नौर जिला के 6-का मतदान केन्द्र (Polling Stations) में न्यूनतम 16 मतदाता हैं। राज्य में ऐसे दूरस्थ मतदान केन्द्र भी हैं जहां पहुंचने के लिए पांच से अधिकतम 14 किलोमीटर का सफर पैदल करना पड़ता है। दूरस्थ चम्बा जिला में 4-डलहौजी विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत 89-मनोला(1) मतदान केन्द्र में सबसे अधिक 1459 मतदाता हैं जबकि भरमौर (Bharmaur) विधानसभा क्षेत्र के 144-क्यूनर में मात्र 84 मतदाता हैं। जनजातीय विधानसभा क्षेत्र भरमौर का 26-चस्क भटोरी एक ऐसा मतदान केन्द्र है जहां पोलिंग पार्टी को पहुंचने के लिए 14 किलोमीटर का सफर पैदल तय करना पड़ता है।

प्रदेश के सबसे अधिक 15 विधानसभा क्षेत्रों वाले कांगड़ा जिला में धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत सबसे अधिक 1511 मतदाता 66-सिद्धबाड़ी में हैं जबकि सबसे कम मतदाता वाला केन्द्र नूरपूर विधानसभा क्षेत्र का 19-कलांगण है, जहां मात्र 75 मतदाता हैं। सबसे दूरस्थ मतदान केन्द्र शाहपुर विधानसभा का 23-मांच है जहां पोलिंग पार्टी को 7 किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ता है। जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के अन्तर्गत 76-काजा में 811 जबकि 33-लिंगर मतदान केन्द्र में मात्र 38 मतदाता हैं।

Himachal-Polling-Stations

Himachal-Polling-Stations

कुल्लू जिला के 22-मनाली विधानसभा क्षेत्र (Manali Assembly Constituency) के अन्तर्गत सबसे अधिक मतदाता वाला 12-चिचोंगा मतदान केन्द्र हैं जहां 1305 मतदाता हैं जबकि इसी जिला के बंजार विधानसभा क्षेत्र के 71-तिलगा में सबसे कम 89 मतदाता हैं। कुल्लू का 129-रसोल और बंजार का 58-शाकटी दूरस्थ मतदान केन्द्र हैं जहां पोलिंग पार्टियों को 10 किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ता है।

विधानसभा क्षेत्रों की संख्या की दृष्टि से हिमाचल प्रदेश का दूसरा बड़ा जिला मण्डी है जिसमें 10 विधानसभा क्षेत्र आते हैं। जिला के सुन्दरनगर विधानसभा क्षेत्र के 25-चौगान में सबसे अधिक 1403 जबकि सबसे कम 75-जारठू मतदान केन्द्र पर मात्र 95 मतदाता हैं। इसी विधानसभा क्षेत्र का 93-मंझागण दूरस्थ मतदान केन्द्र है जहां पहुंचने के लिए पोलिंग पार्टी को 10 किलोमीटर की दूरी पैदल तय करनी पड़ती है।

हमीरपुर जिला के अन्तर्गत हमीरपुर विधानसभा क्षेत्र के 52-स्वाहल मतदान केन्द्र पर सबसे अधिक 1283 जबकि बड़सर विधानसभा क्षेत्र के 59-बल्ह ढटवालियां मतदान केन्द्र पर सबसे कम 105 मतदाता हैं। जिला ऊना के ऊना विधानसभा क्षेत्र (Una Assembly Constituency) के अन्तर्गत 20-ऊना (14) मतदान केन्द्र पर सबसे अधिक 1404 मतदाता हैं जबकि सबसे कम चिन्तपूर्णी विधानभा क्षेत्र के 58-सूरी (2) में औसतन 246 मतदाता हैं।

बिलासपुर जिला के श्रीनैणादेवी जी विधानसभा क्षेत्र के 65-बैहल (3) में सबसे अधिक 1281 मतदाता हैं जबकि बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र का 27-धाड़त केन्द्र अपेक्षाकृत सबसे कम 835 मतदाता वाला केन्द्र है। सोलन जिला का दून विधानसभा क्षेत्र जिसके अन्तर्गत 79-बद्दी मतदान केन्द्र में 1385 तथा कसौली विधानसभा क्षेत्र के 28-गलयाणा में सबसे कम 105 मतदाता हैं। सिरमौर जिला के पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र के 48-पांवटा (देवीनगर-5) में सबसे अधिक 1423 जबकि इसी विधानसभा क्षेत्र के 87-नागली मतदान केन्द्र में सबसे कम 112 मतदाता हैं। यहां के शिलाई विधानसभा क्षेत्र के 36-बोबड़ी मतदान केन्द्र तक पोलिंग पार्टी को पहुंचने के लिए पांच किलोमीटर का पैदल मार्ग तय करना पड़ता है।

आठ विधानसभा क्षेत्रों वाला शिमला (Shimla) जिला के चौपाल विधानसभा क्षेत्र में 114-चरोली मतदान केन्द्र में सबसे अधिक 1298 मतदाता हैं जबकि शिमला (शहरी) विधानसभा क्षेत्र के 2-समरहिल मतदान केन्द्र में केवल 33 मतदाता हैं। जिला के रोहड़ू विधानसभा क्षेत्र के 123-पंडार मतदान केन्द्र पर पहुंचने के लिए पोलिंग पार्टी को 7 किलोमीटर का सफर पैदल तय करना पड़ता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है