Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,392,486
मामले (भारत)
228,078,110
मामले (दुनिया)

Punjab : जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 86 हुई; सीएम ने की मुआवज़े की घोषणा

Punjab : जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 86 हुई; सीएम ने की मुआवज़े की घोषणा

- Advertisement -

अमृतसर। पंजाब के तरनतारन और अमृतसर में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्‍या 86  हो गई है। अब तक तरनतारन जिले में 63, अमृतसर जिले में 12 और गुरदासपुर जिले के बटाला में 11 लोगों की मौत हो चुकी है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपए का मुआवज़ा देने की घोषणा की है। पुलिस ने कहा कि मामले में अब तक 25 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

मारे गए लोगों के शवों को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया गया है। इसके बाद परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। परिजनों का आरोप है कि पोस्टमार्टम हाउस में तीन शव रखने के लिए सही व्यवस्था नहीं है। शव अधिक होने कारण उन्हें जमीन पर ही रख दिया गया और परिजनों से बर्फ मंगवाई गई।

यह भी पढ़ें – Punjab: दो दिनों में 21 जानें निगल गई जहरीली शराब; CM ने मजिस्ट्रेट जांच के दिए आदेश; बनाई गई SIT

तरनतारन (Tarn Taran) में शनिवार दोपहर दो बजे तक पोस्टमार्टम शुरू ना होने पर परिवारों ने हंगामा करते हुए थाना सिटी प्रभारी अमृतपाल सिंह को घेरकर खरी-खोटी सुनाई। मौके पर डीएसपी सुच्चा सिंह बल्ल पहुंचे और परिजनों को शांत करते बताया कि कागजी कार्रवाई के बाद शवों का पोस्टमार्टम शुरू कर दिया जाएगा। वहीं, गांव भुल्लर, संघा, बचड़े, कंग, मुरादपुरा में मृतकों की संख्या बढ़ने से शोक की लहर है। डीसी कुलवंत सिंह धूरी ने बताया कि शवों के पोस्टमार्टम लिए सिविल अस्पताल में तैनात सभी डॉक्टरों को पोस्टमार्टम लिए बुला लिया गया है।

 

तरनतारन में सबसे ज्यादा 30 लोगों की हुई मौत

तरनतारन में सबसे ज्यादा 63, बटाला (गुरदासपुर) में 11 और अमृतसर में 12 लोगों की मौत हुई है। इस तरह दो दिन में 10 गांवों और दो शहरी इलाकों में 86 लोगों की मौत हो चुकी है। कई लोगों की हालत अब भी गंभीर है। मरने वाले लोग ज्यादातर मजदूर तबके के हैं। मृतकों की संख्या अभी भी बढ़ सकती है। हालांकि सरकार ने अब तक 80 मौतों की पुष्टि की है।

बटाला और अमृतसर में भी एसआइटी गठित

तरनतारन में जिस शराब से लोगों की जान गई, वह खडूर साहिब के गांव पंडोरी गोला में तैयार की गई थी। इसे अवैध तरीके से अन्य गांवों में बेचा गया। यह गांव अवैध शराब की तस्करी के लिए बदनाम है। वहीं, सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जालंधर के डिवीजनल कमिश्नर राज कमल चौधरी को घटना की न्यायिक जांच सौंप कर तीन हफ्ते में रिपोर्ट मांगी थी। इस जांच में ज्वाइंट एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर व संबंधित जिलों के पुलिस अधीक्षक भी शामिल होंगे। इसके अलावा बटाला और अमृतसर में भी एसआइटी गठित की गई है। मामले में अब तक कुल आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस जांच में जुटी हुई है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group..

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है