×

#Ram_Mandir में लगेगा 613 किलो का अद्भुत घंटा, 10 किलोमीटर तक सुनाई देगी आवाज

राम रथ से 4500 किलोमीटर की यात्रा कर अयोध्या पहुंचाया कांस्य का विशेष घंटा

#Ram_Mandir में लगेगा 613 किलो का अद्भुत घंटा, 10 किलोमीटर तक सुनाई देगी आवाज

- Advertisement -

अयोध्या। भूमिपूजन के बाद जब से राममंदिर निर्माण शुरू हुआ है लोग भी अपना योगदान दे रहे हैं और कुछ ना कुछ मंदिर में भेंट कर रहे हैं। मंदिर के निर्माण में भव्यता का ध्यान तो रखा ही जा रहा है, साथ ही ऐसी भी बारीकियों पर ध्यान दिया जा रहा है, जो कि मंदिर की प्रसिद्धि में रोचक तथ्यों के तौर पर जाना जाए। देवालय के पंच विधान में घंटे का विशेष महत्व है और कई बलिदानों के बाद बन रहे श्रीराम के पवित्र मंदिर (Ram Mandir) का घंटा भी दिव्य होगा।


यह भी पढ़ें: आने वाला खतरा भांप लेता है ये रत्न, जानिए और क्या है खासियत

जानकारी के मुताबिक, राम जन्मभूमि परिसर में रामलला के अस्थाई मंदिर के लिए एक अनोखा घंटा (Amazing Bell) बुधवार को भेंट किया गया। इसकी खास बात है कि घंटे की आवाज 10 किलोमीटर तक सुनाई देगी। इसके साथ ही इस घंटे के एक बार बजने पर ‘ॐ’ की आवाज निकलेगी। तमिलनाडु रामेश्वरम से 613 किलो वजन का कांस्य से बना यह विशेष घंटा राम रथ यात्रा से 4500 किलोमीटर की यात्रा करके मंगलवार को अयोध्या पहुंचाया गया है।

 

 

बुलेट रानी राजलक्ष्मी माडा रामरथ चला कर पहुंचीं अयोध्या

भगवान श्रीराम को यह विशेष घंटा तमिलनाडु (Tamil Nadu) की लीगल राइट काउंसिल की ओर से भेंट किया गया है। वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुकी बुलेट रानी के नाम से प्रसिद्ध राजलक्ष्मी माडा रामरथ चला कर घंटे को लकर अयोध्या पहुंची हैं। तमिलनाडु निवासी राजलक्ष्मी मांडा विश्व में दूसरी महिला हैं जिन्होंने 9.5 टन वजन खींचने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। रामराम रथ में जहां एक ओर कांस्य से बना 613 किलो वजनी विशेष घंटा रखा गया है, वहीं भगवान श्रीराम, मां सीता, लक्ष्मण, हनुमान जी के साथ गणपति की कांस्य से बनी प्रतिमाएं रख कर लाई गई हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है