Covid-19 Update

2,67,577
मामले (हिमाचल)
2, 53, 840
मरीज ठीक हुए
3961*
मौत
40,622,709
मामले (भारत)
366,912,057
मामले (दुनिया)

एक नहीं…145 कोर्स किए पास, कोरोना काल में इस शख्स ने किया कमाल

केरल के तिरुवंतपुरम के एक शख्स ने हासिल की यह उपलब्धि

एक नहीं…145 कोर्स किए पास, कोरोना काल में इस शख्स ने किया कमाल

- Advertisement -

कड़ी मेहनत (Hard Work) के दम पर इनसान हर मुकाम हासिल कर सकता है। चाहे वो पैसा हो, शोहरत हो या फिर पढ़ाई की ललक। कोरोना (Corona) काल में जहां इनसान घरों में कैद हो गया। ऑफिस-स्कूल-कालेज (College) सब बंद हो गए। कोरोना से सबसे ज्यादा नुकसान छात्र-छात्राओं (Students)को हुआ। इससे उनकी पढ़ाई ठप हो गई। अॅानलाइन कक्षाओं (Online Classes)से उन्हें उतना सीखने को नहीं मिला, जितना वे स्कूल-कक्षाओं में सीखते थे।

कुछ लोगों ने कोरोना काल को एक अवसर के तौर पर भी लिया। केरल (Kerala) के तिरुवंतपुरम (Thiruvananthapuram) में रहने वाले एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने कोरोना काल के दौरान एक नहीं, 145 कोर्स (145 Courses) पूरे कर लिए। यह लॉकडाउन (Lockdown) की अब तक सबसे बड़ी उपलब्धि लग रही है। केरल के इस व्यक्ति का नाम शफी विक्रमान (Shafi Vikraman) है। शफी ने विभिन्न प्लेटफॉर्म्स की ओर से आयोजित किए जाने वाले वर्चुअल कोर्सेज को पूरा किया, जिसमें वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organization) और आईवी लीग कालेज भी शामिल है।

यह भी पढ़ें: मेरा नाम कोविद है, मैं कोई वायरस नहीं…युवक के इन शब्दों के पीछे का समझिए दर्द

शफी ने इंडियन एक्सप्रेस (Indian Express) से बातचीत में कहा कि शुरुआत में मैंने मार्केटिंग कोर्स करने चाहे, लेकिन आखिरी में मेडिकल से जुड़े कोर्सेस के साथ यह सफर पूरा हुआ। येल यूनिवर्सिटी (Yale University) में पढ़ना हर किसी का सपना होता है। आज मेरे पास इस यूनिवर्सिटी के सर्टिफिकेशन कोर्स (Certification Course) हैं। मैं बता नहीं सकता हूं कि इन सभी विषयों की पढ़ाई को लेकर मैं कितना उत्साहित हूं। शफी ने आगे कहा किए लॉकडाउन के दौरान मैं बेकार नहीं बैठना चाहता था, इसलिए मैंने जुलाई 2020 में विभिन्न ऑनलाइन कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन कराया।

आपको बता दें कि शफी दुनिया की अलग-अलग 16 यूनिवर्सिटी से सर्टिफिकेट कोर्स हासिल कर अपने आप को भाग्यशाली मान रहे हैं। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को एक अवसर का लाभ उठाना आना चाहि। मैं जब जवान था तो मेडिकल सेक्टर (Medical Sector) में मेरी रुचि थी। मैंने दुनिया की प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी से कई विषयों पर अध्ययन किया है। मेरे पास इन विषयों को लेकर कई सर्टिफिकेट हैं और अब मुझे ऐसा लग रहा है कि मैं जिंदगी में एक अलग मुकाम पर पहुंच गया हूं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है