मेरा नाम कोविद है, मैं कोई वायरस नहीं…युवक के इन शब्दों के पीछे का समझिए दर्द

कोविड-19 से मिलता-जुलता नाम होने से सोशल मीडिया पर जताया अपना दुख

मेरा नाम कोविद है, मैं कोई वायरस नहीं…युवक के इन शब्दों के पीछे का समझिए दर्द

- Advertisement -

कोरोना वायरस (Corona Virus) के चलते पिछले दो सालों में लोगों ने जो दर्द और मानसिक तनाव झेला है, उसे कभी भूलाया नहीं जा सकता। पूरी दुनिया (World) का लगभग पूरा कारोबार ही ठप हो गया। न्यूज चैनल हों या फिर अखबार हर तरफ सिर्फ कोरोना ही कोरोना। इस वायरस से कोई संक्रमित हुआ तो किसी की जान चली गई। यहां तक कि कइयों की नौकरी (Job) भी चली गई। यह वायरस चीन (China) के वुहान शहर से पूरी दुनिया में फैला था। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस को कोविड-19 से जाना जाता है। कोविड से मिलता-जुलता नाम वाले एक शख्स की परेशानी कुछ और ही है। उनकी परेशानी सुनकर आपको हंसी भी आ सकती है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: मेडिकल कालेज हमीरपुर में मरीजों को चेकअप से पहले करना होगा ये काम

 

इस शख्स ने ट्वीट कर अपनी परेशानी जाहिर की है। उन्होंने लिखाए कोविड-19 के बाद पहली बार वह भारत से बाहर गया। मेरे नाम से लोगों का एक समूह मिला। भविष्य की विदेश यात्राएं मजेदार रहने वाली हैं!

उन्होंने एक दूसरे ट्वीट में लिखा, जो लोग सोच रहे हैं कि मेरे नाम का वास्तव में क्या अर्थ है, उन्हें बाता दूं . इसका अर्थ है विद्वान। इस शब्द का जिक्र हनुमान चालीसा में आता है। इसके अलावा इसका उच्चारण कोविद है ना कि कोविड। आपको बता दें कि शख्स का नाम कोविद कपूर है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है