Covid-19 Update

2,18,523
मामले (हिमाचल)
2,13,124
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,694,940
मामले (भारत)
232,779,878
मामले (दुनिया)

ब्रिन्टन फार्मा और सिप्ला बेचेंगी Covid-19 की दवा, बताया कितनी होगी एक टैबलेट की कीमत

ब्रिन्टन फार्मा और सिप्ला बेचेंगी Covid-19 की दवा, बताया कितनी होगी एक टैबलेट की कीमत

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश भर में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच एक राहत भरी खबर सामने आई है। दरअसल, पुणे स्थित ब्रिन्टन फार्मास्युटिकल्स और भारतीय दवा कंपनी सिप्ला (Cipla) देश में ऐंटीवायरल दवा फेविपिरावीर की बिक्री शुरू करेंगी। सिप्ला ने शुक्रवार को बताया कि उसे भारतीय दवा नियामक डीसीजीआई से ऐंटीवायरल दवा फेविपिरावीर (Favipiravir) को हल्के से मध्यम कोविड-19 मरीज़ के इलाज के लिए बेचने की मंज़ूरी मिली है। सिप्ला इसे ‘सिप्लेंज़ा’ ब्रैंड नाम के तहत 68 रुपए/टैबलेट पर बेचेगी। ‘सिप्लेंज़ा’ को सिप्ला और सीएसआईआर-इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। मूलत: इस दवा को जापानी कंपनी फुजी फार्मा ने तैयारा किया है। फैवीपिराविर के क्लिनिकल ट्रायल में काफी शानदार रेस्पॉन्स रहा है। कम और मध्यम संक्रमण के केस में इसका असर काफी ज्यादा है।

यह भी पढ़ें: मोदी के मंत्री ने लॉन्च किया ‘भाभी जी पापड़’, बोले- यह  Covid-19 से लड़ने के लिए बनाएगा ऐंटी-बॉडी

‘फेविटोन’ नाम से फेविपिराविर को बेचेगी ब्रिन्टन फार्मास्युटिकल्स

वहीं दूसरी तरफ भारतीय दवा नियामक डीसीजीआई ने पुणे स्थित ब्रिन्टन फार्मास्युटिकल्स (Brinton Pharmaceuticals) को एंटीवायरल दवा फेविपिराविर को ब्रैंड नाम ‘फेविटोन’ के तहत कोविड-19 के रोगियों के लिए बेचने की अनुमति दी है। यह दवा 200 एमजी टैबलेट्स में उपलब्ध होगी जिसकी कीमत 59 रुपए प्रति टैबलेट होगी। बतौर ब्रिन्टन, हल्के से मध्यम स्तर के कोविड-19 संक्रमण के इलाज में फेविपिराविर प्रभावी विकल्प है। इससे ज्यादा कीमत पर यह दवा नहीं बेची जाएगी। ब्रिन्टन फार्मा के सीएमडी राहुल कुमार दर्डा ने बताया कि हम चाहते हैं कि ये दवा देश के हर कोरोना मरीज को मिले। हम इसे हर कोविड सेंटर पर पहुंचाएंगे। हमारी दवा की कीमत भी फिक्स है। ये एक सस्ती दवा है। कंपनी ने कहा है कि इस समय फैवीपिरावीर (Favipiravir) दवा की जरूरत सबको है। ये दवा उन मरीजों के लिए बेहतरीन है जिन्हें कोरोना का हल्का या मध्यम दर्जे का संक्रमण है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है