Covid-19 Update

2,86,414
मामले (हिमाचल)
2,81,601
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,502,429
मामले (भारत)
554,235,320
मामले (दुनिया)

बजट के साथ ही पहली फरवरी को बदल रहे ये नियम, आपकी जेब पर भी पडे़गा यह असर

बैंक भी दिखाएंगे सख्ती, ज्यादा चुकानी होगी फीस

बजट के साथ ही पहली फरवरी को बदल रहे ये नियम, आपकी जेब पर भी पडे़गा यह असर

- Advertisement -

नई दिल्‍ली। पहली फरवरी को संसद में बजट पेश किया जाएगा। बजट (Budget) पेश होते ही देश की अर्थव्यवस्था में भी बदलाव होगा तो जाहिर सी बात है कि इससे आपकी जेब पर भी इसका सीधा असर पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: बजट के लाल ब्रीफकेस के पीछे बड़ी ही रोचक है कहानी, निर्मला सीतारमण ने किया यह बदलाव

एसबीआई कर रहा है बड़े बदलाव!

देश का सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक एसबीआई (SBI) पैसा ट्रांसफर करने के नियमों में बदलाव कर रहा है। अब बैंक दो लाख रुपए से 5 लाख रुपए के बीच आईएमपीएस (IMPS) के जरिये पैसा ट्रांसफर करने पर 20 रुपए प्लस जीएसटी (GST) चार्ज वसूलेगा। यानी अब आपको पैसा ट्रांसफर करना महंगा पड़ेगा। गौरतलब है कि आरबीआई ने अक्टूबर 2021 में आईएमपीएस के माध्यम से ट्रांजैक्शन का अमाउंट 2 लाख रुपए से बढ़ाकर 5 लाख रुपए कर दिया था। रिजर्व बैंक (Reserve Bank) ने आईएमपीएस के जरिए होने वाले ट्रांजेक्‍शन की लिमिट को भी एक दिन में 2 लाख रुपए से बढ़ा कर 5 लाख रुपए कर दी है।

बैंक ऑफ बड़ौदा के नियम में बदलाव

पहली फरवरी से हो रहे बदलावों में बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank Of Baroda) का चेक क्‍लीयरेंस का नियम भी शामिल है। बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहकों को पहली फरवरी से चेक पेमेंट के लिए पॉजिटिव पे सिस्टम फॉलो करना होगा। यानी अब चेक से जुड़ी जानकारी भेजनी होगी, तभी आपका चेक क्लीयर होगा। आपको बता दें कि ये बदलाव 10 लाख रुपए से ऊपर के चेक क्लीयरेंस के लिए हैं।

पीएनबी ने भी दिखाई सख्ती

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के बदलते नियम का असर सीधा आपकी जेब पर पड़ेगा। दरअसल, अब अगर आपके अकाउंट में पैसे न होने के कारण किस्त या निवेश फेल हो जाती है तो आपको 250 रुपए पेनल्‍टी चुकानी होगी। अभी तक ये पेनाल्टी 100 रुपए थी। यानी अब आपको इसके लिए अधिक रकम देना होगा।

गैस सिलेंडर की कीमत में बदलाव

गौरतलब है कि हर महीने की पहली तारीख को रसोई गैस (LPG) की कीमतें तय होती है। इस बार बजट भी सामने हैं। ऐसे में देखना होगा कि पहली फरवरी को सिलेंडर (Gas Cylender ) की कीमतों पर क्या असर पड़ता है। अगर कीमतें बढ़ती या घटती है तो निश्चित ही जनता की जेब पर इसका असर होगा।

नए वित्त वर्ष का पेश होगा बजट

पहली फरवरी को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) आम बजट पेश करेंगी। इसमें डायरेक्ट और इनडायरेक्ट टैक्स से जुड़े नियमों में बदलाव हो सकता है। कोरोना (Corona) कहर से चरमराई अर्थव्यवस्था के बीच ये आम बजट बहुत महत्वपूर्ण है। 5 राज्यों के चुनाव भी सामने है, इसलिए ऐसा माना रहा है कि सरकार इस बजट में कई अहम फैसले ले सकती है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है