Covid-19 Update

2,16,430
मामले (हिमाचल)
2,11,215
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,380,438
मामले (भारत)
227,512,079
मामले (दुनिया)

कोरोना दौर में ये कैसा मंजर, पीड़ित ने Ambulance तोड़ा दम तो एंबुलेंस छोड़कर भागे स्वास्थ्य कर्मी

कोरोना दौर में ये कैसा मंजर, पीड़ित ने Ambulance तोड़ा दम तो एंबुलेंस छोड़कर भागे स्वास्थ्य कर्मी

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना महामारी में ऐसा दौर आ गया है जब लोग एक तरफ तो मरने से डर रहे हैं वहीं इंसानियत भी कहीं ना कहीं दम तोड़ती नजर आ रही है। कोरोना महामारी के डर ने लोगों को मन से मानवता को भी खत्म कर दिया है। बिहार के सुपौल में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। यहां इलाज के लिए ले जा रहे कोरोना संक्रमित की मौत होने पर स्वास्थ्य कर्मी एंबुलेंस (Ambulance) छोड़कर मौके से भाग गए।

ये भी पढे़ं – नोटों को कोरोनामुक्त करने का ढूंढा ऐसा तरीका, Washing Machine में धो डाले 14 लाख रुपए

 

मामला सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज का है, जहां कोविड अस्पताल (Covid Hospital) लाने के दौरान एक कोरोना पीड़ित व्यक्ति की एंबुलेंस में ही मौत हो गई। इससे उस एंबुलेंस में मौजूद स्वास्थ्यकर्मी इस कदर डर गए कि वो एंबुलेंस को वहीं छोड़कर भाग निकले। घटना की जानकारी देते हुए अनुमंडलीय अस्पताल के सुपरिटेंडेंट डॉ आरपी सिन्हा ने बताया गया कि कोरोना पीड़ित को छातापुर पीएचसी से लाकर यहां भर्ती किया गया था।

 

 

एंबुलेंस में बैठी रही मरीज की पत्नी

मरीज की मौत के बाद एंबुलेंस में उनकी पत्नी बैठी रही, लेकिन कोई उनकी सुध लेने नहीं आया। कोरोना पीड़ित की मृत्यु के बाद घंटों तक अफरा-तफरी का माहौल अस्पताल परिसर में बना रहा। वहीं त्रिवेणीगंज अस्पताल (Triveniganj Hospital) के प्रबंधक प्रेम रंजन ने कहा कि मृतक की पत्नी जो कोरोना पॉजिटिव हैं उन्हें होम क्वारंटाइन में किया जाएगा। कोरोना पीड़ित का शव इस तरह खुले में पड़ा रहना राज्य के स्वास्थ्य व्यवस्था के दावों की पोल खोल रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है