Covid-19 Update

2, 84, 952
मामले (हिमाचल)
2, 80, 739
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,125,370
मामले (भारत)
523,236,943
मामले (दुनिया)

हिमाचलः निर्माण कार्यों के लिए दोगुने रेट पर सामान खरीदने का आरोप लगा, बीडीओ ऑफिस के सामने दिया धरना

कोटला कलां में मनरेगा में प्रवासी मजदूरों से काम करवाने के लगाए आरोप

हिमाचलः  निर्माण कार्यों के लिए दोगुने रेट पर सामान खरीदने का आरोप लगा,  बीडीओ ऑफिस के सामने दिया धरना

- Advertisement -

ऊना। खंड विकास अधिकारी कार्यालय के बाहर मंगलवार सुबह कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन कर दिया। धरने पर बैठे कार्यकर्ताओं का आरोप है कि ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे विकास कार्यों के लिए 2 गुना रेट पर निर्माण सामग्री ली जा रही है, जिसके चलते सरकारी धन का दुरुपयोग जमकर हो रहा है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि इस पूरे प्रकरण में अधिकारी ही खुली लूट मचाने की छूट जनप्रतिनिधियों को दे रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा के तहत हो रहे तमाम विकास कार्यों में प्रवासी मजदूरों से काम करवाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल बीजेपी ने चुनावों के लिए कसी कमर, 21 मार्च से यहां पर होगा मंथन

धरना प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे कांग्रेस नेता संजीव सैनी ने कहा कि वह दो बार इससे पहले भी खंड विकास अधिकारी को मिल चुके हैं, इस तरह तथ्यों के साथ अपनी बात को भी अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने पंचायतों के अंदर होने वाले निर्माण कार्यों के संबंध में रेत, बजरी से लेकर पेवर्स तक के सभी रेट बाजार से इकट्ठे किए हैं। उन्होंने कहा कि निजी तौर पर खरीदे जाने वाले सामान की तुलना में इस सामान के दोगुना रेट अदा किए जा रहे हैं। इसी मसले को खंड विकास अधिकारी के समक्ष उठाते हुए कहा गया था कि धांधली करते हुए सरकारी पैसे का दुरुपयोग किया जा रहा है। इस संबंध में ब्लॉक डिवेलपमेंट अधिकारी को शिकायत भी की गई थी।

यह भी पढ़ें:हिमाचल युकां का विधानसभा का घेरावः बेरिकेट्स तोड़े, पुलिस के साथ झड़प, कई गिरफ्तार

लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की, बल्कि उन्होंने यह कहकर इस बात को टाल दिया कि यह हमारे 1 साल के रेट लिए जाते हैं। जिसका अर्थ साफ है कि खंड विकास अधिकारी द्वारा खुली लूट की छूट पंचायत पदाधिकारियों को दी जा रही है। उन्होंने सीधे आरोप जड़ा कि इस भ्रष्टाचार में जहां अन्य लोग शामिल हैं वहीं खंड विकास अधिकारी भी बराबर के हिस्सेदार हैं। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार में हिमाचल प्रदेश सरकार के बड़े बड़े अधिकारी भी शामिल है। संजीव सैनी ने कहा कि आज के समय में मनरेगा के तहत जितने भी काम पंचायतों के अंदर करवाए जा रहे हैं उन सभी कामों में प्रवासी मजदूरों से काम लिया जा रहा है। इतना ही नहीं उसे सत्य दिखाने के लिए झूठे मस्ट्रोल भी तैयार की जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें:कुलदीप राठौर बोले, कांग्रेस की चिंता न करे ‘आप’, जनता को रिझाने में जुटे सीएम

दूसरी तरफ खंड विकास अधिकारी ने बताया कि धरना प्रदर्शन करने आए लोगों ने करीब 1 सप्ताह पहले ग्राम पंचायत कोटला कलां में किए जा रहे निर्माण कार्यों के खिलाफ उन्हें शिकायत सौंपी थी। जिसमें कहा गया था कि पंचायत द्वारा मार्केट रेट से दोगुने दाम अदा करके निर्माण सामग्री ली जा रही है। इस मामले की जांच के लिए पहले ही कमेटी का गठन कर दिया गया है। पंचायत निरीक्षक को इस मामले की जांच का जिम्मा सौंपा गया है और करीब 3 से 4 दिन के भीतर उन्हें मामले की रिपोर्ट दाखिल करने के भी निर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत अपने अपने लेवल पर सामान खरीदने के लिए कोटेशन कॉल करती है। जिसकी सबसे कम कोटेशन होती है उसी से सामान की खरीद फरोख्त की जाती है। उन्होंने कहा कि इस तरह की शिकायतें सामने आने के बाद अब कंसोलिडेटेड कोटेशन कॉल करते हुए पंचायतों को विभाग के स्तर पर सामान उपलब्ध कराने पर विचार किया जा रहा है। इस संबंध में जल्द ही डीसी ऊना से की बातचीत की जाएगी, ताकि मसले का हल निकाला जा सके।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है