हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

80 पार कर चुके भी हिमाचल विस चुनाव में आजमा रहे किस्मत

कांग्रेस 82 साल वाले पर भी खेल रही दांव,बीजेपी 73 पर अटकी

80 पार कर चुके भी हिमाचल विस चुनाव में आजमा रहे किस्मत

- Advertisement -

हिमाचल विधानसभा चुनाव 2022 (Himachal Assembly Election 2022) के बीच कई रोचक किस्से भी सामने आ रहे हैं। आलम ये है कि उम्र के 80 वर्ष पार कर चुके बुजुर्ग (Crossed Age of 80) भी चुनाव में किस्मत आजमाने में पीछे नहीं हैं। इन चुनाव में कांग्रेस की ओर से सोलन के विधायक कर्नल धनीराम शांडिल (Col Dhaniram Shandil) की उम्र सबसे ज्यादा 82 साल है। शांडिल इस मर्तबा भी चुनाव मैदान में हैं। उनका मुकाबला अपने ही दामाद डॉ राजेश कश्यप से है। 2017 के चुनाव में भी धनीराम शांडिल अपने दामाद को हरा चुके हैं। इसी तरह कांग्रेस में कर्नल शांडिल के बाद सबसे उम्रदराज हैं। द्रंग से कांग्रेस के 8 बार के विधायक रह चुके कौल सिंह ठाकुर हैं।

यह भी पढ़ें- कांग्रेस कैंडिडेट डॉ राजेश शर्मा ने देहरा में दाखिल किया नामांकन पत्र

76 साल के कौल सिंह का मुकाबला बीजेपी के पूर्ण चंद ठाकुर के साथ है। अब आगे बात करते हैं चंबा के भरमौर से ठाकुर सिंह भरमौरी की। भरमौरी 75 साल के हैं। बीजेपी ने यहां से डॉ जनक राज को मैदान में उतारा है। बिलासपुर के श्री नयना देवी सीट से कांग्रेस प्रत्याशी एवं वर्तमान विधायक ठाकुर राम लाल (Thakur Ram Lal) को पार्टी ने फिर से प्रत्याशी बनाया है। 71 साल के राम लाल का मुकाबला बीजेपी के रणधीर शर्मा से है। वहीं बीजेपी की ओर से सबसे उम्रदराज कुल्लू से 73 वर्ष के महेश्वर सिंह (Maheshwar Singh) हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के वर्तमान विधायक सुंदर सिंह ठाकुर से है। देहरा में बीजेपी ने रमेश चंद धवाला को चुनाव मैदान में उतारा है। 71 साल के धवाला वर्तमान में ज्वालामुखी से विधायक हैं। बीजेपी ने इस मर्तबा इन्हें ज्वालामुखी के बजाए देहरा से उतारा है।

कांग्रेस पार्टी ने यहां से डॉ राजेश शर्मा (Dr. Rajesh Sharma) को इनके सामने उतारा है। देहरा (Dehra) में निर्दलीय होशियार सिंह भी मैदान में हैं। वह वर्तमान में देहरा के विधायक भी हैं। पिछली मर्तबा निर्दलीय जीतकर आए थे,बीजेपी के एसोसिएट विधायक बनकर पांच साल रहे। पांचवें साल में बीजेपी ज्वाइन कर ली,लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं के विरोध के चलते बीजेपी (BJP) ने उन्हें टिकट नहीं दिया। मजबूरन होशियार सिंह को निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरना पड़ा। बीजेपी ने शिमला शहरी के 70 साल के विधायक सुरेश भारद्वाज को इस बार कुसुम्पटी से टिकट दिया है। यहां इनकी टक्कर कांग्रेस (Congress) के दो बार के विधायक अनिरुद्ध सिंह से है। कुल मिलाकर उम्रदराज नेता चाहे कांग्रेस हो या बीजेपी चुनावी मैदान से हटना ही नहीं चाहते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है