3000 रुपए किलो साग, खाओगे तो आ जाएगा स्वाद, जानिए क्यों है खास

पेरिस में होती है इसकी खेती, कुछ चुनिंदा होटलों में की जाती है सप्लाई

3000 रुपए किलो साग, खाओगे तो आ जाएगा स्वाद, जानिए क्यों है खास

- Advertisement -

यूं तो आप ने साग (Greens) खाया होगा। सरसों का साग, मेथी का साग (Methi Ka saag), बथुए का साग और पालक (spinach) आदि। पर क्या आपने तीन हजार किलो वाला साग कभी खाया है। नहीं ना। तो चलिए आज हम आपको एक ऐसे साग के बारे में बताते हैं जो तीन हजार रुपए किलो है और इसकी सप्लाई कुछ चुनिंदा होटलों में ही होती है। इस साग की खेती पेरिस (Paris) में की जाती है। यह साग सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है। सर्दियों में तो इसे सुपरफूड भी माना जाता है। इसकी कीमत 26 से 28 पाउंड यानी 27 हजार से तीन हजार रुपए किलो तक है। इस साग की खेती फ्रांस (France) की राजधानी पेरिस से तीस किलोमीटर की दूरी पर रहने वाले टोक्यो मूल निवासी आसफुमी यामाशिता करते हैं। याशमिता ने 1975 में 22 वर्ष की उम्र में पेरिस से पढ़ाई की थी।

यह भी पढ़ें- 2023 में 15 प्रतिशत तक घट सकती है जरूरी वस्तुओं की महंगाई

उनकी बॉक्सिंग और गोल्फ में दिलचस्पी थी। मगर खेती के शौक में उन्होंने इससे भी किनारा कर लिया। इसके बाद वह जापान आ गए। यहां भी इनका मन नहीं लगा और पेरिस लौट आए। यहां आकर उन्होंने सब्जी की खेती शुरू कर दी। सन 1989 में पेरिस में एक बोन्साई व्यवसाय स्थापित किया। इस दौरान उन्होंने 500 डॉलर का निवेश किया। इससे उन्होंने बीज खरीदा। उन्होंने कोमात्सुना (komatsuna) जिसे जापानी सरसों का साग कहा जाता है और हत्सुका डाइकॉन जिसे जापानी मूली कहा जाता है की खेती की। इस खेती को इन्होंने यामाशिता स्पिनेच का नाम दिया। यह साग दुनिया में सबसे महंगा साग है। इसको चुनिंदा होटलों में ही सप्लाई किया जाता है। इसमें विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट मौजूद है।यह लोगों को क्रोनिक बीमारियों से बचा सकता है, साथ ही यह दिमाग के लिए भी इसे फायदेमंद माना जाता है, हृदय और आंखों के लिए भी इसका सेवन काफी लाभकारी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है