Covid-19 Update

58,777
मामले (हिमाचल)
57,347
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,123,619
मामले (भारत)
114,991,089
मामले (दुनिया)

#BirdFlu बाहरी राज्यों से आने वाले Poultry Products पर रोक एक सप्ताह बढ़ाई गई

#BirdFlu बाहरी राज्यों से आने वाले Poultry Products पर रोक एक सप्ताह बढ़ाई गई

- Advertisement -

शिमला। बर्ड फ्लू (Bird Flu) के खतरे के मद्देनजर हिमाचल में पोल्ट्री उत्पादों (Poultry Products) के आयात पर लगाई गई रोक (Ban) की मियाद बढ़ा दी गई है। बाहरी राज्यों से आने मुर्गा-मुर्गी और अन्य पोल्ट्री उत्पादों पर रोक को एक सप्ताह और बढ़ाया गया है। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर (Panchayati Raj Minister Virendra Kanwar) ने कहा कि जन स्वास्थ्य (Public Health) को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार ने 18 जनवरी को जारी अधिसूचना (Notification) के अनुसार प्रदेश में बाहरी राज्यों से आने वाले मुर्गा-मुर्गी व मुर्गी उत्पादों के परिवहन पर अस्थाई रूप से लगाई गई रोक को एक और सप्ताह के लिए बढ़ा दिया है।

यह भी पढ़ें :- #Birdflu : गोहर में पक्षियों की मौत से सहमे लोग, अब तक आठ पक्षियों की हो चुकी है मौत

मंत्री ने कहा कि प्रदेश में प्रवासी पक्षियों की मृत्यु दर में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है और 17 जनवरी को केवल 21 प्रवासी पक्षियों की मृत्यु की पुष्टि हुई है। उन्होंने कहा कि कुछ दिनों से बाहरी राज्यों से मृत मुर्गियां प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में फेंकी जा रही थी। प्रदेश सरकार ने समय रहते इन मृत मुर्गियों के नमूने एकत्रित किए व प्रोटोकॉल के अनुसार इन्हें नष्ट कर दिया और समूचे क्षेत्र को सैनीटाइज किया गया है। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि भोपाल लैब से उपरोक्त नमूमों की जांच रिपोर्ट में एवियन एन्फ्लुएंजा- एच5एन8 वायरस की पुष्टि हुई है।

गौरतलब हो कि प्रदेश में अन्य राज्यों से पोल्ट्री उत्पादों को लाने पर पहले एक सप्ताह के लिए प्रतिबंध लगाया गया था, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अन्य राज्यों से पोल्ट्री उत्पादों के माध्यम से बर्ड फ्लू ना आए। हिमाचल में बर्ड फ्लू के कारण अब तक पांच हजार के करीब प्रवासी पक्षियों (Migratory Birds) की मौत हो चुकी है। ऐसे में एहतिआतन सरकार की ओर से बाहरी राज्यों से आने वाले पोल्ट्री प्रोडक्ट्स पर रोक की मियाद बढ़ा दी गई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है