हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

देश का इकलौता राज्य है हिमाचल-यहां एक भी मुस्लिम विधायक नहीं

डेढ लाख के आसपास है पहाड़ी राज्य की मुस्लिम आबादी

देश का इकलौता राज्य है हिमाचल-यहां एक भी मुस्लिम विधायक नहीं

- Advertisement -

हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 (Assembly elections 2022 in Himachal Pradesh) पूरे शवाब पर है। प्रदेश के दोनों प्रमुख राजनीतिक दल बीजेपी-कांग्रेस (BJP-Congress) अपने-अपने तरीके से वोटरों को साधने में जुटे हुए है। इस सबके बीच जातिगत समीकरण भी बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हिमाचल में सबसे ज्यादा सवर्ण मतदाताओं का प्रभाव है। इसके अलावा यह देश का इकलौता ऐसा राज्य है, जहां पर राज्य के गठन से लेकर अब तक कोई भी मुस्लिम जीतकर विधानसभा तक नहीं (No Muslim in Assembly) पहुंचा सका है। इसके पीछे सबसे बड़ी वजह राज्य की जनसंख्या में मुस्लिम आबादी को माना जाता है। राज्य की आबादी में मुस्लिम आबादी (Muslim Population) का प्रतिशत 2.1 फीसदी से कुछ ज्यादा है। मोटा-मोटी ये करीब डेढ़ लाख के आसपास बैठती है। यानी हिमाचल की किसी भी विधानसभा सीट पर मुस्लिम निर्णायक भूमिका में नहीं है।

यह भी पढ़ें- कसौली विस सीटः सैजल और सुलतानपुरी तीसरी बार आमने-आमने, कौन मारेगा बाजी

इसी वजह से राजनीतिक दल भी मुस्लिम समुदाय (Muslim Community) से ताल्लुक रखने वालों को अपना कैंडिडेट नहीं बनाते हैं। जबकि प्रदेश में अल्पसंख्यक समुदाय (Minority Community) के रूप में सिख समुदाय का प्रभाव कई सीटों पर माना जाता है। हिमाचल प्रदेश की राजनीति में सवर्ण मतदाताओं के साथ-साथ ओबीसी (OBC) और अनुसूचित जाति के मतदाताओं की संख्या भी अच्छी खासी है। लेकिन प्रदेश में सबसे कम प्रभाव मुस्लिम मतदाताओं का माना जाता है। प्रदेश की जनसंख्या में केवल 2.1 फीसदी ही मुस्लिम आबादी है। मुस्लिम मतदाता छोटे-छोटे टुकड़ों में बंटे हुए है, अभी तक प्रदेश में कोई मुस्लिम नेता भी उभर कर सामने नहीं आ सका है। प्रदेश की जनसंख्या 70 लाख के करीब बताई जाती है। प्रदेश में सिखों का प्रभाव कुछ एक विधानसभा सीटों पर माना जाता है। वर्ष 2017 में भी सिख समुदाय (Sikh Community) से ताल्लुक रखने वाले एक प्रतिनिधि ने विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करवाई थी। वर्ष 2011 के जनगणना के अनुसार हिमाचल प्रदेश की कुल जनसंख्या 68,56,509 है। वहीं इस जनसंख्या में अनुसूचित जाति की आबादी 17,29,000 है, जबकि अनुसूचित जनजाति की आबादी 3,92,000 है, 9,27,000 ओबीसी और सवर्ण मतदाताओं का प्रतिशत 50.72% है, जबकि अल्पसंख्यक आबादी 4.83% है। हालांकि ये आंकड़ा अब आगे-पीछे हो गया होगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है