Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

हिमाचलः शिकारी देवी में रास्ता भटक गया था युवक, पुलिस ने रात दो बजे किया रेस्क्यू

चुराग करसोग का रहने वाला युवक अकेले निकला था शिकारी देवी के लिए

हिमाचलः शिकारी देवी में रास्ता भटक गया था युवक, पुलिस ने रात दो बजे किया रेस्क्यू

- Advertisement -

मंडी। मंडी जिला की सराज घाटी में पुलिस और प्रशासन ने  बर्फ के बीच फंसे युवक को रेस्क्यू( Rescue) कर एक बड़ेऑपरेशन को अंजाम दिया गया है। मामले में जिला के करसोग से शिकारी माता के दर्शन करने गए एक युवक जान बचाने के लिए पुलिस मसीहा बनकर सामने आई है।पुलिस ( Police)ने अभियान चला कर रात दो बजे युवक को सुरक्षित निकालने के बाद उसे रायगढ़ पहुंचाया गया। इसके बाद उसे प्राथमिक उपचार के लिए जंजैहली अस्पताल( Janjehli Hospital)ले जाया गया है।

जानकारी के अनुसार नरेन्द्र कुमार पुत्र इंद्रजीत सिंह निवासी चुराग करसोग सोमवार को मां शिकारी माता के दर्शन करने के लिए बखरोट से होते हुए मंदिर के लिए अकेला ही पैदल निकल गया। लेकिन रास्ता भटकने से युवक रायगढ़ पहुंच गया । वहां से मंदिर के लिए आगे बढ़ा तो मंदिर से 400 मीटर पीछे भारी बर्फ के कारण आगे नहीं बढ़ सका। खुद को बर्फ में फंसता देख युवक ने आपात काल सेवा 112 पर बर्फ में फंसे होने की सूचना दी। सूचना मिलने पर जंजैहली पुलिस ने तुरंत हेड कांस्टेबल तरुण कुमार के नेतृत्व में 6 सदस्यीय रेस्‍क्‍यू दल( Rescue Team) तैयार कर मौके के लिए स्थानीय प्रशासन व लोक निर्माण विभाग की मदद से रवाना किया। रेस्‍क्‍यू दल रायगढ़ तक गाड़ी में पहुंचा। लेकिन उसके आगे भारी बर्फ होने के करण उन्‍हें पैदल सफर कर युवक को रात 2 बजे सुरक्षित निकाला।

यह भी पढ़ें- हिमाचलः ट्रैक्टर में पत्थर भर रहा था जुखाला निवासी , ऊपर से गिर गया ल्हासा

दो बजे सुरक्षित निकालने के बाद युवक को रायगढ़ पहुंचाया गया, जिसे प्राथमिक उपचार के लिए जंजैहली अस्पताल ले जाया गया। युवक शिमला में पढ़ाई कर रहा है। कालेज में छुट्टियां होने के कारण दो दिन पहले ही घर आया था। युवक के पिता हिमाचल पथ परिवहन निगम में चालक के पद पर तैनात है। परिजनों को युवक के शिकारी देवी जाने की जानकारी नहीं थी। डीएसपी करसोग गीतांजली ठाकुर ने बताया कि एक युवक के शिकारी देवी के समीप बर्फ में फंसे होने की सूचना 112 के माध्यम से शाम करीब साढ़े सात बजे प्राप्त हुई थी, जिसे जंजैहली पुलिस रेस्‍क्‍यू दल ने रात करीब दो बजे सुरक्षित निकाला।
एसडीएम थुनाग पारस अग्रवाल ने बताया कि शिकारी माता मंदिर तक पहुंचने के लिए बहुत से पैदल रास्ते हैं। करसोग से एक युवक जंगल के रास्ते पैदल ही ट्रेकिंग करते हुए मंदिर जा रहा था, लेकिन इस दौरान युवक रास्ता भटक गया। युवक ने ट्रेकिंग का पूरा समान और खाना साथ डाल रखा था। उन्होंने कहा कि सर्दियों के मौसम में बर्फबारी को देखते हुए मंदिर जाने की मनाही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है