Covid-19 Update

57,189
मामले (हिमाचल)
55,745
मरीज ठीक हुए
959
मौत
10,654,656
मामले (भारत)
98,988,019
मामले (दुनिया)

#Khattar Govt का साथ छोड़ किसानों के समर्थन में उतरे चरखी दादरी से विधायक सोमबीर

मंगलवार सुबह दिल्ली कूच कर गए सांगवान खाप के साथ

#Khattar Govt का साथ छोड़ किसानों के समर्थन में उतरे चरखी दादरी से विधायक सोमबीर

- Advertisement -

चंडीगढ़। चेयरमैन पद से इस्‍तीफा देने वाले चरखी दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान (Sombir Sangwan)ने अब हरियाणा सरकार (Haryana Government) से भी समर्थन वापस ले लिया है। सोमबीर मंगलवार को फौगाट खाप की पंचायत में पहुंचे थे। उन्होंने एक दिन पहले ही सांगवान खाप की पंचायत में पशुधन विकास बोर्ड के चेयरमैन पद से इस्तीफा दिया था। सोमबीर सांगवान ने कृषि कानूनों (Agricultural laws) के विरोध में सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दिया था। बता दें कि निर्दलीय विधायक सोमबीर, सांगवान खाप के प्रधान भी हैं। किसानों के समर्थन में उतरी सर्व खाप आज किसानों के समर्थन में दिल्ली कूच कर चुकी है।

यह भी पढ़ें: पंजाब में किसान आंदोलन के चलते 33 #Trains_canceled,11 को रास्ते में रोका-करोड़ों का नुकसान

पत्र में लिखा- किसानों के साथ जुल्म करने वाली सरकार का साथ नहीं दे सकता

विधायक सांगवान किसान आंदोलन (Farmer’s Protest)के समर्थन में सांगवान खाप के साथ मंगलवार सुबह दिल्ली कूच कर गए। सोमवार को सांगू धाम पर खाप की सर्वजातीय बैठक करने के बाद सोमबीर सांगवान ने कहा कि निर्दलीय चुनाव जीतने के बाद सरकार ने उन्हें पशुधन विकास बोर्ड का चेयरमैन बनाया था। किसान आंदोलन को समर्थन देने के चलते उन्होंने सरकार को इस्तीफा भेज दिया है।विधायक ने कहा कि उनके लिए समाज और भाईचारा पहले है, जबकि राजनीति और पद का उन्हें कोई लालच नहीं है। हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष को पत्र लिखकर उन्होंने समर्थन वापसी की घोषणा की है। समर्थन वापस लेने की बात पर सांगवान ने कहा कि वो मनोहर सरकार के साथ नहीं चल सकते। हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष को लिखे पत्र में सोमबीर सांगवान ने लिखा कि किसान विरोधी और किसानों के साथ जुल्म करने वाली सरकार का साथ नहीं दे सकता। राजनीति से पहले किसान और भाइचारा है। सोमबीर सांगवान ने कहा तुरंत प्रभाव से उनका समर्थन वापिस लिया समझा जाए।

 

 

कोन है सोमवीर सांगवान

गौर रहे कि सोमवीर सांगवान ने विधानसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी बबीता फोगाट को हराया था। बता दें विधानसभा चुनाव में हरियाणा की सत्ताधारी पार्टी बीजेपी को 40 सीटें मिली थी। वहीं प्रदेश की नवनिर्मित पार्टी जननायक जनता (JJP) पार्टी ने भी 10 सीटें जीती थी। जबकि कांग्रेस (congress) ने 31 सीटों पर कब्जा किया और 9 निर्दलीय उम्मीदवारों ने बाजी मारी। उन्हीं उम्मीदवारों में से एक निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने हरियाणा में बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार को समर्थन दिया था। इससे पहले भ्रष्टाचार के मुद्दे पर निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू पहले ही मनोहर लाल सरकार से समर्थन वापस ले चुके हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है