Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

ये है वो जगह जहां कोहरे से बनता है पानी-400 लोगों को मिली है नई जिंदगी

ना केवल पानी बल्कि इस बीहड रेगिस्तान में पेड़-पौधे भी लगे है उगने

ये है वो जगह जहां कोहरे से बनता है पानी-400 लोगों को मिली है नई जिंदगी

- Advertisement -

क्या आप इस बात की कल्पना भी कर सकते हैं कि कोहरे से बनने वाली पानी के सहारे जिंदगी की गाड़ी चल रही हो। कल्पना से परे की बात दिखती है, लेकिन सच तो यही है कि यहां की जिंदगानी अगर चल रही है तो  कोहरे से बनने वाले पानी से ((Water produced by Fog)। रेगिस्तान की बात कर रहे हैं हम,वहां कोसों-मीलों तक पानी का नामोनिशान नहीं मिलता, लेकिन जिस रेगिस्तान की हम बात कर रहे हैं वहां तो पेड़-पौधे भी लगने लगे हैं।

यह भी पढ़ें: घर पर नहीं थी जगह तो युवक ने पेड़ पर बना डाला आईसोलेशन वार्ड

ऐसा संभव हुआ है मोरक्को में। मोरक्को (Morocco) के रेगिस्तान में पानी बनाने के लिए हवाओं की नमी (Moisture of the Winds)को इकट्ठा करने वाली अनूठी तकनीक का इस्तेमाल हो रहा है। इससे 5 गांवों के 400 लोगों को पीने का पानी (Drinking Water) मिल रहा है। यानी 400 लोगों को नई जिंदगी मिली है। जो पानी की एक-एक बूंद के लिए कभी तरसते थे,आज पानी उनके घर-द्वार पर है। बंजर टीलों पर लगे बड़े जाल जिन्हें फॉग कैचर यानी कोहरा पकड़ने वाला जाल कहते हैं। जैसा काम वैसा ही नाम है क्योंकि इन्हीं जालों के जरिए ना सिर्फ पीने का पानी मिल रहा है बल्कि इस बीहड़ रेगिस्तान में भी पेड़-पौधे (Trees and Plants) उगने लगे हैं।मोरक्को  आज पानी की बदौलत खुशहाली की एक नई इबारत लिख रहा है।


मोरक्को के एक इलाके में जहां साल में छह महीने तक समंदर से कोहरा आता हैए इसी कोहरे को यहां पानी में बदल दिया जाता है। ये सारा कमाल खास प्रकार के जालों का है जो बहुत सरल तरीके से कोहरे को पानी में बदल देते हैं। इसी के चलते लोग अब यहां सुखी जीवन व्यतीत कर रहे हैं। पानी की समस्या का हल जो ढूंढ लिया है इस (Desert) रेगिस्तान ने।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है