×

Himachal स्वर्णिम रथ यात्रा पर रोक, समाराहों में अब इतने लोग हो सकेंगे शामिल

सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में लिया फैसला

Himachal स्वर्णिम रथ यात्रा पर रोक, समाराहों में अब इतने लोग हो सकेंगे शामिल

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल (Himachal) में कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों को लेकर सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन हुआ।  बैठक में कोरोना को लेकर गहन से चर्चा की जा रही है। अब तक की जानकारी के अनुसार बैठक में हिमाचल की स्थापना के 50 साल पूरा होने पर 15 अप्रैल से शुरू होने वाली स्वर्णिम रथ यात्रा (Himachal swarnim Rath Yatra) पर रोक लगा दी गई है। आगामी आदेशों तक रोक जारी रहेगी।


यह भी पढ़ें: Himachal: क्या जरूरी होगी बाहरी राज्यों से आने वालों के लिए कोरोना रिपोर्ट- जानिए

वहीं, शादी सहित अन्य समारोहों में भी लोगों की भीड़ को लेकर पांबदी लगाई गई है। अब इंडोर में 50 और खुले में 200 लोग ही शामिल हो सकते हैं। वहीं, अंतिम संस्कार में भी 50 लोगों के शामिल होने की अनुमति रहेगी।  जयराम ठाकुर ने स्वास्थ्य विभाग को सरकारी अस्पतालों में बिस्तरों की क्षमता बढ़ाने के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए, ताकि कोरोना के मामलों में वृद्धि होने की स्थिति में संक्रमित लोगों को बेहतर उपचार सुविधा प्रदान की जा सके। उन्होंने कोरोना रोगियों के लिए बिस्तरों की वैकल्पिक व्यवस्था करने के लिए राज्य के निजी अस्पतालों से संपर्क करने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा कि इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार पूरी तरह तैयार है और प्रदेश में आॅक्सीजन सिलेंडर, वैक्सीन, पीपीई किट्स, फेस मास्क और हैंड सैनिटाइजर की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि नेर चैक चिकित्सा महाविद्यालय में कोविड रोगियों के लिए अतिरिक्त बिस्तर उपलब्ध करवाए जाएंगे और नाहन चिकित्सा महाविद्यालय में 28 नर्सों के नए बैच को तैनात करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि हमीरपुर और नाहन चिकित्सा महाविद्यालयों में भी वैकल्पिक बिस्तरों की क्षमता बढ़ाई जाएगी।

सीएम ने कहा कि जिलों में कोविड-19 के लिए टीकाकरण और जांच को अभियान मोड पर चलाने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड रोगियों से संपर्क रखने के निर्देश भी दिए गए हैं ताकि आवश्यकता पड़ने पर उन्हें अस्पतालों में चिकित्सा उपचार के लिए सलाह दी जा सके। उन्होंने कहा कि सीमा क्षेत्रों पर लोगों की स्क्रीनिंग पर विशेष बल दिया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जिला स्तरीय कार्य योजना का सख्ती से क्रियान्वयन किया जाएगा। मुख्य सचिव अनिल खाची ने स्थिति से निपटने के लिए अपने बहुमूल्य सुझाव दिए और राज्य सरकार द्वारा जमीनी स्तर तक उठाए जा रहे विभिन्न कदमों के बारे अवगत करवाया। स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने राज्य में कोरोना स्थिति बारे में जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान में राज्य में कोरोना के 3,828 सक्रिय मामले हैं। उन्होंने कहा कि उपायुक्तों, पुलिस अधीक्षकों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों, राजकीय आयुर्विज्ञान महाविद्यालयों के प्रधानाचार्यों और खण्ड चिकित्सा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन हिमाचल प्रदेश के प्रबन्धक निदेशक, डॉ. निपुण जिंदल व स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में उपस्थित थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है