Covid-19 Update

3,06, 269
मामले (हिमाचल)
2,98, 086
मरीज ठीक हुए
4161
मौत
44,190,697
मामले (भारत)
591,602,347
मामले (दुनिया)

देश के उपराष्ट्रपति की होती हैं ये जिम्मेदारियां, सैलरी जानकर होंगे दंग

उपराष्ट्रपति को सभापति के तौर पर मिलती है सैलरी

देश के उपराष्ट्रपति की होती हैं ये जिम्मेदारियां, सैलरी जानकर होंगे दंग

- Advertisement -

देश के वर्तमान उपराष्ट्रपति (Vice President) वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त, 2022 को पूरा हो रहा है। उपराष्ट्रपति का पद हमारे देश के दूसरे सबसे बड़े संवैधानिक पद है। हालांकि, क्या आपको पता है कि भारत के उपराष्ट्रपति को क्या-क्या सेवाएं व सुविधाएं मिलती हैं और उनकी सैलरी कितनी होती है। आज हम आपको बताएंगे कि उपराष्ट्रपति का चुनाव कौन लड़ सकता है और बाकी की जानकारी।

यह भी पढ़ें:देश के राष्ट्रपति को मिलते हैं ये अधिकार, सैलरी जानकर हो जाएंगे हैरान

बता दें कि हमारे देश में उपराष्ट्रपति राज्यसभा के सभापति होते हैं। उपराष्ट्रपति का चुनाव (Election) 35 साल की उम्र पूरा कर चुका कोई भी व्यक्ति लड़ सकता है। इसके लिए उम्मीदवार को कम से कम 20 संसद सदस्यों को प्रस्तावक और कम से कम 20 संसद सदस्यों को समर्थक के रूप में नामित कराना होता है। इसके अलावा उम्मीदवार किसी सदन या राज्य के विधानमंडल का सदस्य नहीं होना चाहिए। हालांकि, अगर कोई संसद सदस्य उपराष्ट्रपति चुनाव लड़ना चाहता है तो उसे सदन की सदस्यता से इस्तीफा देने होगा और प्रत्याशी बनने के लिए 15 हजार रुपए की राशि भी जमा करवानी होगी।

इतनी मिलती है सैलरी

इस पद के लिए उन्हें संसद अधिकारी के सैलरी (Salary) और भत्ते अधिनियम, 1953 के तहत सैलरी देने का प्रावधान है। उपराष्ट्रपति को सभापति के तौर पर सैलरी और अन्य सरकारी सुविधाएं मिलती हैं। उपराष्ट्रपति को हर महीने 4 लाख रुपए सैलरी मिलती है। इसके अलावा उन्हें कई तरह के अन्य भत्ते जैसे कि दैनिक भत्ता, मुफ्त आवास, यात्रा, चिकित्सा और अन्य सुविधाओं के लाभ मिलते हैं। उपराष्ट्रपति को सरकारी स्टाफ भी दिया जाता है।

ये होती हैं जिम्मेदारियां

उपराष्ट्रपति को राष्ट्रपति की गैर-मौजूदगी में राष्ट्रपति की सभी जिम्मेदारियां निभानी होती हैं। इस दौरान उन्हें राष्ट्रपति की सैलरी और सरकारी सुविधाएं मिलती हैं।

ऐसे होते हैं चुनाव

बता दें उपराष्ट्रपति के चुनाव में संसद के दोनों सदनों के सदस्य वोट डालते हैं। इतना ही नहीं दोनों सदनों को मनोनीत सांसद भी उप राष्ट्रपति चुनाव में वोटिंग कर सकते हैं। उपराष्ट्रपति चुनाव में दोनों सदनों के 790 सदस्य हिस्सा लेते हैं। इसमें राज्यसभा में कुल 245 और लोकसभा में 545 सांसद वोट देते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है