Covid-19 Update

3,12, 233
मामले (हिमाचल)
3, 07, 924
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44,600,711
मामले (भारत)
624,275,834
मामले (दुनिया)

हिमाचल: पुलिस पेंशनर्स कल्याण संघ की क्यों की गई स्थापना, जाने क्या बोले जिलाध्यक्ष कमल बग्गा

रिटायर्ड पुलिसकर्मी बोले: पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली के लिए हम भी उठाएंगे मांग

हिमाचल: पुलिस पेंशनर्स कल्याण संघ की क्यों की गई स्थापना, जाने क्या बोले जिलाध्यक्ष कमल बग्गा

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल प्रदेश पुलिस से सेवानिवृत्त हुए अधिकारियों और कर्मचारियों (retired officers and employees) ने पुलिस पेंशनर्स कल्याण संघ की स्थापना की है। इसके लिए हिमाचल प्रदेश पुलिस पेंशनर्स कल्याण संघ ने एक बैठक की। इस बैठक की अध्यक्षता संघ के जिलाध्यक्ष कमल चंद बग्गा (Kamal Chand Bagga) ने की। बैठक के दौरान पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त हुए कई अधिकारियों और कर्मचारियों ने भाग लिया। वहीं संगठन को और मजबूत करने की दृष्टि से जिला भर में विभाग से सेवानिवृत्त हो चुके अधिकारियों और कर्मचारियों को इसका हिस्सा बनाने का ऐलान किया गया।इस मौके पर पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त हुए तमाम लोगों को संघ से जोड़ने का ऐलान किया गया। वहीं किसी भी समय किसी भी सदस्य के साथ होने वाली अप्रिय घटना से मिलकर निपटने का भी संकल्प लिया है।

यह भी पढ़ें:13 को परिवार संग शिमला में पेंशन बहाली के लिए आवाज बुलंद करेंगे दो लाख कर्मचारी

हालांकि प्रदेश पुलिस पेंशनर्स कल्याण संघ की अपनी कोई भी समस्या या मांग लंबित नहीं है, लेकिन इसके बावजूद वर्ष 2003 के बाद पुलिस विभाग में भर्ती होने वाले कर्मचारियों के पेंशन के मामले को लेकर जरूर आने वाले दिनों में सरकार से मुलाकात करने को लेकर विचार किया जा रहा है। कुल मिलाकर प्रदेश के अन्य कर्मचारी और पेंशनरों संगठनों की ही तर्ज पर पुलिस से सेवानिवृत्त अधिकारियों और कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली के लिए आवाज उठाने का निर्णय लिया है। इस मौके पर हिमाचल प्रदेश पुलिस से सेवानिवृत्त हुए तमाम अधिकारी और कर्मचारियों को भी संगठन के साथ जोड़ने और संगठन को जिला स्तर पर पंजीकृत करवाने (to register) का फैसला सर्वसम्मति से लिया गया।

इस मौके पर जिला अध्यक्ष कमल चंद बग्गा ने कहा कि पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों और अधिकारियों की ना तो कोई समस्या है और ना ही कोई मांग है। पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त हुई है तमाम पेंशनर हंसी-खुशी (gleefully) जीवन यापन कर रहे हैं  लेकिन इसके बावजूद किसी भी साथी के साथ कोई भी अनहोनी घटना होने पर मजबूती से उसके साथ खड़े हो सके इसलिए संगठन का गठन किया गया। इसके अतिरिक्त आने वाले समय में यदि कोई समस्या सेवानिवृत्त पुलिस कर्मचारियों (retired police personnel) को दरपेश आती है तो उसके हल के लिए भी एक स्वर में आवाज उठाकर उसे दूर करने के लिए प्रयास किए जाएंगे। कमल चंद बग्गा ने कहा कि हालांकि अभी पुलिस से सेवानिवृत्त हुए इन पेंशनर्स की कोई भी समस्या या मांग नहीं है, लेकिन वर्ष 2003 के बाद भर्ती हुए तमाम कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली के लिए सरकार से मुकम्मल मांग की जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है