Covid-19 Update

2,21,203
मामले (हिमाचल)
2,16,124
मरीज ठीक हुए
3,701
मौत
34,043,758
मामले (भारत)
240,610,733
मामले (दुनिया)

हिमाचल: महिला डाक कर्मी के घर फिर मिला चिट्ठियों का जखीरा, पढ़ें पूरा मामला

पति को आत्महत्या को उकसाने के आरोप में हवालात में बंद है महिला, पहले भी मिली थी चिट्ठियां

हिमाचल: महिला डाक कर्मी के घर फिर मिला चिट्ठियों का जखीरा, पढ़ें पूरा मामला

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल के मंडी जिले में पति को आत्महत्या (Suicide) के लिए मजबूर करने के आरोप में गिरफ्तार महिला डाक कर्मी (Female Postal Worker) के घर से चिट्ठियां का एक और जखीरा मिला है। महिला के बेडरूम से 2 बैड बॉक्सों में 7 से आठ बोरियां चिट्ठियों की मिलीं हैं। यह चिट्ठियां महिला के परिजनों को मिलीं, जिसके बाद उन्होंने पुलिस और डाक विभाग (Post Office) को इसकी सूचना दी। मौके पर डाक विभाग के कर्मी भी पहुंचे और पूरी डाक को कब्जे में ले लिया है। बताया जा रहा है कि महिला डाक कर्मी ने इस डाक को बांटा ही नहीं था। डाक विभाग डाक की सही संख्या को पता लगाने में जुटा हुआ है। विभाग के की ओर से बुधवार को इनकी गिनती की जाएगी और इसके बाद लोगों तक इन पत्रों को पहुंचाया जाएगा। बोरियों में एटीएम, पंजीकृत पत्र, स्पीड पोस्ट, इंटरव्यू कॉल लैटर, बीमा पॉलिसी व स्कूली बच्चों के प्रमाण पत्र शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचलः पति को आत्महत्या के लिए उकसाने वाली महिला के घर से मिली चिट्ठियों की तीन बोरियां

 

 

बता दें कि मंगलवार को अरोपी महिला डाक कर्मी के परिजनों ने बच्चों के लिए बेड बॉक्स और ट्रंक में कपड़े निकालने के लिए उसे खोला तो उन्हें यह चिट्ठियां मिलीं। बेडबॉक्स और ट्रंक में हजारों पत्र पड़े हुए थे। पहले मिली 3 बोरियों की चिट्ठियों को बांटने के लिए विभाग ने 5 सदस्यीय टीम गठित की थी और 5 दिनों में डाक बांट दी गई थी, लेकिन अब सात से आठ बोरियों में भरी हुई हजारों चिट्ठियों को बांटने में 50 दिन लग सकते हैं। महिला डाक कर्मी की इस गलती का खमियाजा जहां विभाग को भुगतना पड़ रहा है।

क्या था मामला

बता दें कि महिला डाक कर्मी के जेठ संजय कुमार ने अपनी भाभी व एक पुरुष पर उसके भाई को आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए थेए जिस पर पुलिस ने आरोपी महिला डाक कर्मी व एक पुरुष को हिरासत में लिया था। बाद में महिला के ससुर व जेठ ने जब उसके कमरे में पड़े ट्रंक को खोला तो चिट्ठियों से भरी 3 बोरियां मिली थींए जिन्हें संबंधित विभाग को सौंप दिया गया था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है