Covid-19 Update

2,05,383
मामले (हिमाचल)
2,00,943
मरीज ठीक हुए
3,502
मौत
31,470,893
मामले (भारत)
195,725,739
मामले (दुनिया)
×

चीन के इस गांव में समुद्र में घर बनाकर रहते हैं लोग, पढ़े क्या है कारण

1300 वर्ष पहले मछुआरों ने बसाया था इस गांव को

चीन के इस गांव में समुद्र में घर बनाकर रहते हैं लोग, पढ़े क्या है कारण

- Advertisement -

दुनिया में सबसे घनी आबादी वाले चीन के लोग अब धरती को छोड़कर समुद्र की तरफ रुख करने लगे हैं। दरअसल यहां के लोग समुद्र के ऊपर तैरते हुए घर बनाकर रहने लगे हैं। चीन के निंगडे शहर के वासी समुद्र पर ही अपना घर बनाकर पूरी बस्ती के साथ रहते हैं। समुद्र पर बसा यह गांव दुनिया का एकमात्र अनोखा गांव हैं। आपको बता दें इस गांव में लगभग 8500 लोग रहते है और यह गांव लगभग 1300 वर्ष पुराना है। इस गांव को मछुआरों ने बसाया था, जिन्हें टांका कहा जाता है। अब भी यहाँ के सारे लोग मछुआरे ही हैं।

यह भी पढ़ें: 375 स्कवॉयर फीट के मकान में रहते हैं दुनिया के तीसरे सबसे अमीर शख्स

इन सभी लोगों ने पानी में तैरने वाले घर तो अपने हाथों से बनाए ही है और इसके साथ ही उन्होंने लकड़ी से बड़े-बड़े प्लेटफॉर्म भी तैयार किये हैं। इन प्लेटफॉर्म पर सामुदायिक कार्यक्रम होते हैं और यहां बच्चे भी खेलते हैं। कहा जाता है कि यह मछुआरे शासकों के अत्याचारों से परेशान होकर बस्ती की बजाय समुद्र किनारे आकार रहने लग गये। धीरे धीरे समुद्र में तैरने वाले घर बनाकर रहने लगे। अब तो यह लोग जमीनी लोगों से बेहद नफरत करते है तथा उन्हें अपने आस पास भी नहीं आने देते और जमीन पर कदम तक नहीं रखते। आपको बता दें, इन समुद्र में रहने वाले लोगों का जीवन सिर्फ समुद्री जीवों से ही चलता है। तैरने वाले घरों की बस्ती चीन के फुजियान राज्य के दक्षिण पूर्व की निंगडे सिटी के पास समुद्र में स्थित हैं। इस समुद्र को जिप्सीज ऑफ़ द सी के नाम से भी जाना जाता है।


 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है