×

#Bird_Flu: पौंग झील में 215 प्रवासी पक्षी और सुंदरनगर में तोता मिला मृत

#Bird_Flu: पौंग झील में 215 प्रवासी पक्षी और सुंदरनगर में तोता मिला मृत

- Advertisement -

धर्मशाला/सुंदरनगरपौंग झील (Pong Lake) में बर्ड फ्लू (Bird flu) से प्रवासी पक्षियों के मरने का सिलसिला लगातार जारी है। आज विभिन्न प्रजातियों के 215 प्रवासी पक्षी मृत मिले हैं। अब तक 4235 प्रवासी पक्षियों की मौत हो चुकी है। वहीं, आज केंद्रीय पशुपालन की तीन सदस्यीय टीम (Central Animal Husbandry team) ने धमेटा के सियाल, नगरोटा सूरियां के गुगलाड़ा क्षेत्र का दौरा किया। उनके साथ हिमाचल पशुपालन विभाग के दो अधिकारी भी थे। वहीं, लाइफ विभाग के अधिकारी भी टीम के साथ मौजूद रहे। इस दौरान टीम ने विभिन्न जानकारियां जुटाईं। इसी बीच जिला मंडी के सुंदरनगर में रविवार को एक तोता (Parrot) मृत मिला है। इससे पहले मंडी जिला में भी दर्जनों पक्षियों की रहस्यमयी परिस्थितियों में मौत हो चुकी है। जिसके चलते प्रशासन, वन और पशुपालन विभाग की चिंताएं बढ़ गई हैं। रविवार को सुंदरनगर के ललित चौक पर मृत तोते के सूचना मिलते ही विभाग हरकत में आया और तुरंत कारवाई की गई। विभाग ने वाइल्डलाइफ प्रोटोकॉल (Wildlife Protocol) के तहत तोते को डिस्पोज ऑफ किया।


यह भी पढ़ें: Himachal: प्रवासी पक्षियों के बाद अब कौवों में भी #Bird_Flu की पुष्टि, तीन सैंपल पॉजिटिव

बता दें कि पौंग बांध में फैले बर्ड फ्लू से पक्षियों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बीते रोज भी 318 प्रवासी पक्षियों ने दम तोड़ा था। जबकि मंडी जिला के सुंदरनगर के दयोली गांव में भी शनिवार को जंगल बैबलर नाम के चार पक्षी एक ही जगह मृत मिले थे। हमीरपुर के नादौन के जोल सप्पड़ में चमगादड़ जबकि अस्पताल के निकट मरा हुआ कबूतर मिला है। इनकी मौत का कारण अभी साफ नहीं है। वहीं, पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर (Minister Virender Kanwar) ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कहीं भी मुर्गे-मुर्गियों में बर्ड फ्लू का मामला सामने नहीं आया है। मुर्गों के 110 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। फिलहाल पोल्ट्री फार्म (Poultry farm) के पक्षियों में कोई खतरा नहीं है। मंत्री ने बताया कि कांगड़ा में मरने वाले प्रवासी पक्षियों में सबसे ज्यादा संख्या बार हेडेड गीज की है। जिला कांगड़ा में विभाग की 55 रैपिड रिस्पांस टीमें और वन्य जीव विभाग की 10 टीमें लगातार निगरानी का कार्य कर रही हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है