Covid-19 Update

2, 43, 365
मामले (हिमाचल)
2, 28, 454
मरीज ठीक हुए
3874*
मौत
37,380,253
मामले (भारत)
328,826,023
मामले (दुनिया)

ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचना चाहते हो तो अपनाएं ये टिप्स

हर रोज आ रहे ऑनलाइन फ्रॉड मामले

ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचना चाहते हो तो अपनाएं ये टिप्स

- Advertisement -

नई दिल्ली। आज के दौर में पेमेंट करना हो या पैसे ट्रांसफर (Money Transfer), हम सभी ऑनलाइन ही काम निपटा लेते हैं। जितनी आसानी से ऑनलाइन (Online) काम हो रहा है, उतनी आसानी से लोग धोखाधड़ी का शिकार भी और रहे हैं। रोजाना ऑनलाइन फ्रॉड (Online Fraud) के बहुत सारे के सामने आ रहे हैं। ऑनलाइन धोखाधड़ी के जरिए लोगों की मेहनत की कमाई एक झटके से खत्म हो रही है। आइए जानते है ऑनलाइन ट्रांजेक्शन (Online Transaction) में धोखाधड़ी से बचने के 10 स्मार्ट टिप्स।

निजी चीजें गुप्त रखें

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में धोखाधड़ी से बचने के लिए अपनी निजी चीजें गुप्त रखनी चाहिए। आपको अपने क्रेडिट कार्ड (Credit Card) का नंबर, पिन नंबर, सीवीवी और एक्सपायरी डेट के साथ वन टाइम पासवर्ड (OTP) किसी से भी शेयर नहीं करना चाहिए। सार्वजनिक स्थानों पर इंटरनेट (Internet) का इस्तेमाल शॉपिंग या पेमेंट करने से बचे। इसके अलावा इन जगहों पर आपको ईमेल आईडी खोलने या नेटबैंकिंग जैसे ट्रांजेक्शन भी नहीं करना चाहिए।

अनजान लिंक पर ना करें क्लिक

अकसर देखा जाता है कि कुछ वेबसाइट लोगों को फंसाने के लिए ऑफर (Offer) का लालच देती है। ऐसे लिंक पर भूलकर भी क्लिक नहीं करना चाहिए। अगर कोई पर गलती से क्लिक कर देता है तो वह धोखाधड़ी के जाल में फंस सकता है।

आधिकारिक वेबसाइट से लें कॉन्टैक्ट नंबर

ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले ग्राहकों को गलत कस्टमर केयर नंबर देते हैं। उन्हें ये ट्रस्ट दिलाने के लिए धोखा देते हैं कि वो अपने बैंक ध्बीमा कंपनी के अधिकृत प्रतिनिधि से बात कर रहे हैं। अगर आपको बैंक या बीमा कंपनी के नंबर चाहिए तो ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर इन कॉन्टैक्ट नंबर लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें: #Una में ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार हुआ व्यक्ति, एक लाख 37 हजार की ठगी

वेरिफाइड बैज को चेक करें

एक बार सभी को ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी ऐप को डाउनलोड करने से पहले हमेशा उसके वेरिफाइड बैज को जरूर चेक करें। पूरी संतुष्टी होने के बाद ही उस ऐप को डाउनलोड करना चाहिए। कुछ ऐप ऐसे होती है जिनको ओपन करते ही आपके फोन की सभी निजी जानकारी उनके पास चली जाती हैए जिससे लोग आसानी से ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार होते है।

एंटी वायरस है बहुत जरूरी

सभी को अपने स्मार्टफोन या कम्प्यूटर में एंटी वायरस रखना चाहिए। कई बार सस्ते एंटी वायरस सॉफ्टवेयर खरीदना बाद में काफी महंगा साबित होता है। बहुत से एंटी वायरस सॉफ्टवेयर होते हैए जिससे हैकर आसानी से अपनी निजी जानकारी चुरा सकता हैए इसलिए अच्छा एंटी वायरस ही खरीदना चाहिए।

सुरक्षा का निशान जरूर देखें

आप किसी वेबसाइट पर पेमेंट करते है तो वेबसाइट आपको यह भरोसा देती हैं कि आपका पेमेंट बिल्कुल सुरक्षित है। ऑनलाइन सुरक्षा कंपनी मैकेफीए वेरीसाइन आदि पेमेंट गेटवे को सुरक्षित बनाती हैं। ऐसे में पेमेंट करने से पहले सुरक्षा का पूरा ध्यान रखना चाहिए।

यह भी पढ़ें: घर बैठे ऑनलाइन शॉपिंग के हैं इरादे, उससे पहले जरूर ध्यान में रखें ये खास बातें

पासवर्ड मुश्किल रखना चाहिए

आज भी बहुत से लोग ऐसे है जो पासवर्ड अासान रखते है। ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले ऐसे लोगों जल्दी अपना शिकार बनाते हैए इसलिए हमेशा पासवर्ड मुश्किल रखना चाहिएए जिन पर आसानी से कोई पहुंच नहीं सकते।

डेटा का बैकअप रखें

ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के लिए हमेशा अपने डेटा का बैकअप रखना चाहिए। जो लोग अपने डेटा का बैकअप नहीं रखते है उनको बाद में इसकी कीमत चुकानी पड़ती है। इसलिए आंकड़ों की सुरक्षा के लिए इसका बैकअप रखना बहुत महत्वपूर्ण है।

अनजान जॉब पोर्टल पर ना करें पेमेंट

फ्रॉड करने वाले लोगों को जॉब के नाम पर पोर्टल पर पेमेंट करने के लिए कहते है। बहुत से लोग उनके जालसाज में आकर खुद का पंजीकरण करते और अपने बैंक खाते का विवरणए डेबिट कार्डए क्रेडिट कार्ड आदि साधा कर देते है। ऐसा नहीं करना चाहिए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है