Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,452,164
मामले (भारत)
551,819,640
मामले (दुनिया)

WPI INFLATION APRIL 2022: थोक महंगाई ने तोड़ा पिछले 17 साल का रिकॉर्ड, बढ़कर 15 फीसदी के पार

आठ साल के उच्‍चतम स्‍तर पर पहुंची खुदरा महंगाई दर

WPI INFLATION APRIL 2022: थोक महंगाई ने तोड़ा पिछले 17 साल का रिकॉर्ड, बढ़कर 15 फीसदी के पार

- Advertisement -

देश में लगातार बढ़ रही महंगाई से हर कोई परेशान है। वहीं, अप्रैल 2022 में थोक महंगाई दर (Wholesale Price Index) भी बढ़ गई है, जिससे आम आदमी की मुश्किलें और भी बढ़ गई हैं। दरअसल, अप्रैल 2022 में थोक महंगाई दर बढ़कर 15.08 प्रतिशत पर पहुंच गई है। जबकि, साल 2021 अप्रैल में ये दर 10.74 प्रतिशत थी। वहीं, साल 2022 में मार्च में ये थोक महंगाई दर 14.55 प्रतिशत रही।

यह भी पढ़ें- IAS ऑफिसर ने शेयर की दिल छू लेने वाली कविता, पढ़कर भावुक हो जाएंगे आप

गौरतलब है कि ये लगातार 13वां महीना है जब थोक महंगाई दर 10 प्रतिशत से ऊपर चल रही है। बता दें कि अप्रैल के आधार पर आए आंकड़ों से महंगाई 17 साल के उच्‍चतम स्‍तर पर पहुंच गई है। जबकि, इससे पहले खुदरा महंगाई दर भी आठ साल के उच्‍चतम स्‍तर पर पहुंच गई थी। डिपार्टमेंट ऑफ प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (डीपीआईआईटी) (Department of Promotion of Industry and

Internal Trade) (DPIIT) की तरफ से जारी अप्रैल के थोक महंगाई के आंकड़ों ने सभी को चौंका दिया है। डीपीआईआईटी ने बताया कि तेल और ईंधन की कीमत में तेजी के कारण थोक महंगाई में उछाल आया है। डीपीआईआईटी ने बताया कि अप्रैल 2022 में थोक महंगाई की दर बढ़ने के लिए मिनरल ऑयल, बेसिक मेटल्स, पेट्रोलियम और नेचुरल गैस व खाने-पीने के सामान आदि चीजें जिम्मेदार हैं।

डीपीआईआईटी ने कहा कि समीक्षाधीन अवधि में खाद्य वस्तुओं की मुद्रास्फीति 8.35 प्रतिशत थी। वहीं, सब्जियों, गेहूं, फल और आलू की कीमतों में तेज वृद्धि देखी गई थी। जबकि, ईंधन और बिजली खंड में मुद्रास्फीति 38.66 प्रतिशत थी, विनिर्मित उत्पादों में 10.85 प्रतिशत, तिलहन में 16.10 प्रतिशत, कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस की मुद्रास्फीति अप्रैल में 69.07 प्रतिशत थी।

वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने देश में बढ़ती महंगाई को लेकर एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए बीजेपी के मुद्दों को दंगा और तानाशाही करार दिया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि जनता के मुद्दे- कमाई, महंगाई। बीजेपी के मुद्दे- दंगा और तानाशाही। देश को आगे बढ़ाना है तो बीजेपी की नकारात्मक सोच और नफरत की राजनीति को हराना है। आओ मिलकर भारत जोड़ो।

गौरतलब है कि फरवरी 2022 में थोक मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई दर 13.11 फीसदी रहा था। थोक महंगाई दर का पिछले पांच महीने का ये उच्चतम स्तर है। जनवरी 2022 में महंगाई दर 12.96 फीसदी रही थी। फिलहाल, महंगाई दर बीते एक साल से ज्यादा समय से लगातार दहाई के आंकड़े में है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है