Covid-19 Update

2, 84, 982
मामले (हिमाचल)
2, 80, 760
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,128,786
मामले (भारत)
525,038,134
मामले (दुनिया)

यति नरसिंहानंद के बिगड़े बोल, कहा- हिंदू ज्यादा से ज्यादा पैदा करें बच्चे, बलशाली भी बनाए

यति नरसिंहानंद सरस्वती ने ऊना में धर्म संसद का किया आगाज की हिंदू धर्म की पैरवी

यति नरसिंहानंद के बिगड़े बोल, कहा- हिंदू ज्यादा से ज्यादा पैदा करें बच्चे, बलशाली भी बनाए

- Advertisement -

ऊना। हमेशा अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाले यति नरसिंहानंद सरस्वती ने आज ऊना जिला में तीन दिवसीय धर्म संसद (Parliament of Religions) का आगाज किया। यति नरसिंहानंद सरस्वती ने आज भी विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि हिंदू आज अपने ही देश में असुरक्षित हो चुके हैं। परिस्थिति यह है कि चाहे कोई भी राजनीतिक दल (Political Party) हो वह राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के चलते हिंदू हितों को कुचलने में कोई कमी नहीं रख रहा। जिससे हिंदू संस्कृति का लगातार पतन जारी है। उन्होंने दो टूक कहा कि हिंदुओं को ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करने चाहिए, इसके साथ-साथ परिवारों को मजबूत करना चाहिए। उन्होंने कहा कि परिवारों की मजबूती पैसे से नहीं होती अपितु रिश्तो को मजबूत करने से ही परिवारों की मजबूती होती है। उन्होंने कहा कि बच्चों को सु संस्कारी बनाने के साथ-साथ बलशाली भी बनाए, ताकि वह अपने परिवारों और विशेष रूप से बहू बेटियों की सुरक्षा कर सकें, देव भूमि की और हिंदू भूमि की सुरक्षा कर सकें।

 

हिंदू समाज लगातार पतन की ओर अग्रसर

बता दें कि रविवार को जिला ऊना के मुबारिकपुर में अखिल भारतीय संत परिषद की तीन दिवसीय धर्म संसद (Dharm Sansad) का आज आगाज हुआ। सनातन धर्म के संरक्षण और हिंदू समाज के विभिन्न धार्मिक पर्वों के सुरक्षित आयोजन के चिंतन मनन को लेकर संत समाज के साथ-साथ हिंदू संगठनों के प्रचार को और अन्य लोगों द्वारा यह धर्म संसद बुलाई गई है। धर्म संसद की अध्यक्षता प्रमुख रूप से यति नरसिंहानंद सरस्वती कर रहे हैं। इस मौके पर यति नरसिंहानंद सरस्वती (Yeti Narasihanand Saraswati) ने कहा कि वर्तमान परिदृश्य में हिंदू समाज लगातार पतन की ओर अग्रसर है। जिसका सीधा कारण भारतीय राजनीति में केवल मात्र एक समुदाय विशेष के प्रति झुकाव होना है। यती नरसिंहानंद सरस्वती ने कहा कि एक समय था जब अमरनाथ और माता वैष्णो देवी की यात्रा करने वालों के ऊपर मुस्लिम समुदाय द्वारा पथराव किए जाते थे, लेकिन अब हालत यह है कि दुर्गा अष्टमी के दिन देशभर में निकलने वाली शोभायात्रा के ऊपर भी पथराव और हमले (Attack) होने लगे हैं।

 

भारतीय राजनीति एक समुदाय की तरफ झुकी

एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय राजनीतिक व्यवस्था भी केवल मात्र मुस्लिम समुदाय के प्रति झुकाव रखती है। यही कारण है कि हिमाचल प्रदेश जैसे शांति प्रिय राज्य में भी घरों में घुसकर बेटियों की हत्याएं की जा रही हैं। सदैव विवादित बयानों के चलते सुर्खियों में रहने वाले यति नरसिंहानंद सरस्वती का कहना है कि केवल मात्र सच्चाई बयान करते हैं लेकिन यही सच्चाई उस वर्ग को चुभ जाती है जो हिंदू समाज को कुचलने के लिए प्रयासरत है।

 

धर्म संसद में भड़काऊ भाषण देने के बाद पुलिस ने जारी किया नोटिस नोटिस

यति नरसिंहानंद सरस्वती के ऊना में भड़काउ भाषण देने के बाद विवाद खड़ा हो गया है। भड़काऊ भाषण देने के बाद पुलिस ने धर्म संसद के आयोजनकर्ता को नोटिस जारी किया है। वहीं मौके पर भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया है। बटालियन की दो टुकड़ियां मौके पर पहुंच गई हैं। बताया जा रहा है कि सोमवार और मंगलवार को तीन बड़े पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में कड़े पहरे के बीच यह तीन दिवसीय धर्म संसद होगी। डीसी राघव शर्मा ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के याचिकाकर्ता ने उनसे पत्राचार किया है। इसके बाद यह व्यवस्था की है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है