Covid-19 Update

2,27,195
मामले (हिमाचल)
2,22,513
मरीज ठीक हुए
3,831
मौत
34,587,822
मामले (भारत)
262,656,063
मामले (दुनिया)

हिमाचल: थ्रेशिंग करते मशीन की चपेट में आने से युवक की गई जान, शव भी मिला

कांगड़ा और बिलासपुर में हुए हादसे, पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर शुरू की जांच

हिमाचल: थ्रेशिंग करते मशीन की चपेट में आने से युवक की गई जान, शव भी मिला

- Advertisement -

कांगड़ा बिलासपुर। हिमाचल के कांगड़ा जिला में एक युवक की थ्रेशिंग मशीन (Threshing Machine) की चपेट में आने से मौत हो गई। वहीं एक अन्य व्यक्ति का जिला बिलासपुर (Bilaspur) में शव मिला मिला है। पुलिस ने दोनों ही मामलों में शवों को कब्जे में लेकर आगामी जांच शुरू कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार पहला मामला कांगड़ा (Kangra) जिला के धर्मशाला की नरवाना पंचायत से सामने आया है। यहां युवक अपने माता.पिता के साथ धान की थ्रेशिंग घर के पास ही बिजली से चलने वाली मशीन से कर रहा था। इस दौरान युवक ने अपने गले में परना लंबा कपड़ा लपेटा हुआ था। थ्रेशिंग के लिए धान की गठियां मशीन में डालते समय युवक के परने का एक छोर मशीन में फंस गया और वह फंदा बन गया। पिता ने तुरंत मशीन को बंद किया और युवक को तुरंत मेडिकल कॉलेज अस्पताल टांडा (Tanda) ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान युवक की मौत हो गई। डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि गले में फंदा लगने की वजह से उपचार के लिए टांडा अस्पताल लाया गया था। जिसकी एमएलसी व ब्लड सैंपल हासिल किए गए हैं। मौके पर मौजूद युवक के माता.पिता के बयान भी दर्ज किए गए है। युवक की पहचान 17 वर्षीय अंकुश कुमार पुत्र रणजीत सिंह निवासी टंग नरवाना के रूप में हुई है। अंकुश माता.पिता का इकलौता बेटा था और उसकी एक बहन भी है। पुलिस चौकी योल के प्रभारी नारायण दास ने बताया कि शव को स्वजनों के हवाले कर दिया गया है। स्वजनों ने अपने बयान में बताया कि उन्हें किसी पर कोई शक नहीं है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल: दर्दनाक हादसे में पहला करवाचौथ मनाने से पहले उजड़ा महिला का सुहाग 

इसी तरह से दूसरा मामला पुलिस थाना बिलासपुर सदर से सामने आया है। यहां शनिवार सुबह बामटा के पास स्थानीय लोगों ने एक व्यक्ति को अचेत अवस्था में पड़े हुए देखा, जिसकी सूचना सदर थाना पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस की एक टीम तत्काल मौके पर पहुंची। पुलिस जांच में पाया कि व्यक्ति की मौत हो चुकी है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए क्षेत्रीय अस्पताल भेज दिया। मृतक की पहचान हमीरपुर जिला के बल्ह निवासी 34 वर्षीय सिंपी के रूप में की गई है। पता मिलने पर पुलिस ने परिजनों को भी सूचित कर दिया। हालांकि शव पर किसी भी प्रकार की चोट के निशान नहीं है। इसलिए पुलिस ने मंडी से फॉरेंसिक टीम को भी स्पॉट पर बुला लिया था और फॉरेंसिक टीम साक्ष्य जुटा रही है। हालांकि अभी तक मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव (Dead Body) परिजनों को सौंप दिया है। अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ही पता चल सकेगा कि व्यक्ति की मौत कैसे हुई है। वहीं डीएसपी जिला मुख्यालय राज कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चलेगा। फॉरेंसिक टीम ने भी साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस मामले की गहन जांच कर रही है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है