Covid-19 Update

2,21,203
मामले (हिमाचल)
2,16,124
मरीज ठीक हुए
3,701
मौत
34,043,758
मामले (भारत)
240,610,733
मामले (दुनिया)

सरकारी स्कूल के हाल, 31 बच्चों को पढ़ाने के लिए एक टीचर-अन्य काम भी रहा निपटा

कांगड़ा जिला के शिक्षा खंड फतेहपुर की राजकीय प्राथमिक पाठशाला बडियाली का है मामला

सरकारी स्कूल के हाल, 31 बच्चों को पढ़ाने के लिए एक टीचर-अन्य काम भी रहा निपटा

- Advertisement -

रविन्द्र चौधरी/फतेहपुर। प्रदेश सरकार ऐसे तो सरकारी स्कूलों में बच्चों को दाखिल करवाने के लिए अभिभावकों से अपील करती रहती है, लेकिन उन्हीं में कुछ एक सरकारी स्कूलों (Govt School) में अध्यापकों की तैनाती ना कर बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ भी कर रही है। ऐसा ही एक मामला जिला कांगड़ा के शिक्षा खंड फतेहपुर के तहत पड़ती राजकीय प्राथमिक पाठशाला (Government primary school) बडियाली में देखने को मिल रहा है। जहां मात्र एक ही अध्यापक पांच कक्षाओं के करीब 31 बच्चोँ (31 Students) का भविष्य संवारने में लगा हुआ है। ऐसा नहीं है कि शिक्षा खंड फतेहपुर (Education Block Fatehpur) में अध्यापकों की कमी है। कुछ स्कूलों में तो 4 से 5 बच्चों को पढ़ाने के लिए ही दो-दो अध्यापक तैनात हैं। तो वहीं 31 बच्चों के लिये मात्र एक ही अध्यापक।

यह भी पढ़ें: PTC डरोह के प्रिंसिपल बदले, संतोष पटियाल फिर लौटे धर्मशाला- यहां मिली तैनाती

इस स्कूल के बच्चों और उनके अभिभावकों ने सरकार से स्कूल में अध्यापकों की नियुक्ति की गुहार लगाई है। अभिभावकों का कहना है कि बच्चों के भविष्य को देखते हुए सरकार जल्द इस स्कूल में अध्यापक नियुक्त करे, ताकि बच्चों का भविष्य खराब ना हो। बता दें कि कोरोना काल के बाद अभी तक इस स्कूल में मात्र पांचवीं कक्षा के बच्चों को ही बुलाया जा रहा है। लेकिन जब अन्य बच्चों को बुलाया जाएगा तब एक अध्यापक (Teacher) इन सारी कक्षाओं को कैसे पढ़ाएगा। जब इस बारे में पाठशाला में तैनात हेड टीचर सुभाष सिंह के साथ बात की तो उन्होंने बताया कि अभी फिलहाल 5वीं कक्षा के ही बच्चों को स्कूल बुलाया गया है। जिनकी संख्या दस है। उन्होंने बताया कि स्कूल में 31 बच्चे पंजीकृत हैं और पिछले एक साल से वह अकेले ही बच्चों को पढ़ा भी रहे हैं और अन्य काम भी निपटा रहे हैं। अध्यापकों की कमी बारे विभाग (Department) को भी बताया गया है, लेकिन अभी तक कोई राहत नहीं मिली है। वहीं इस पर जब प्रारंभिक शिक्षा खंड फतेहपुर के कार्यालय में संपर्क किया तो वहां से जानकारी दी गई कि अब अध्यापकों की नियुक्ति सरकार के आदेशों पर ही होती है। अब डेपुटेशन पर भी किसी अध्यापक को अन्य स्थान पर लगाने पर पाबंदी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि इस बारे उच्चाधिकारियों को बता दिया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है