Covid-19 Update

2, 45, 811
मामले (हिमाचल)
2, 29, 746
मरीज ठीक हुए
3880*
मौत
5,565,748
मामले (भारत)
331,807,071
मामले (दुनिया)

कोरोना से बचने के लिए इस मां ने हैवानियत की हदें कर दी पार, यहां पढ़ें पूरा मामला

अमेरिका के टेक्सास में एक महिला ने कार की डिक्की में बंद कर दिया अपना बच्चा

कोरोना से बचने के लिए इस मां ने हैवानियत की हदें कर दी पार, यहां पढ़ें पूरा मामला

- Advertisement -

वाशिंगटन। मां को भगवान (God) से भी बड़ा दर्जा मिला है। दुनिया (World) में ऐेसे कई किस्से सामने आए हैं, जिसमें ममतामयी मां (Mother)ने हर दुख तकलीफ को सहते हुए अपने बच्चों को समाज में ऊंचे दर्जे तक पहुंचाया है। इसके अलावा कुछ बच्चे (Child) भी अपने मां-बाप (Parents) की सेवा में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते। इसके विपरित कई बार बच्चे उन्हें अपने हालात पर ही छोड़ देते हैं। मां-बाप ममता में बंधे अपना कुछ अपने लाड़लों पर न्योछावर कर देते हैं, लेकिन अमेरिका (America) में एक क्रूर मां ने अपने बेटे के साथ हैवानियत की सभी हदें पार कर दीं।

यह भी पढ़ें: कमरे से 26 लड़कियों की लाशें बरामद, ऐसे देता था वारदात को अंजाम

अमेरिका के टेक्सास (Texas) में एक मां को उस समय गिरफ्तार (Arrest) कर लिया गया, जब उसने अपने कोविड पॉजिटिव (Covid Possitve) बेटे से खुद को संक्रमित होने से बचने के लिए उसे कार (Car) की डिक्की के अंदर बंद कर दिया। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसारए 41 वर्षीय सारा बीम (Sara Beam) 3 जनवरी को हैरिस काउंटी में ड्राइव-थ्रू टेस्टिंग साइट पर पहुंची थी। घटना की एक गवाह ने क्लिक2ह्यूस्टन डॉट कॉम (click2houston.com) को बताया कि उसने कार की डिक्की से आवाजें सुनीं। आवाज सुनते ही उसने तुरंत पुलिस (Police) को बुला लिया। पुलिस के आने से पहले ही मां ने डिक्की के अंदर बंद अपने बेटे (Son) को बाहर निकाला।

click2houston.com के अनुसारए बीम ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि उसने अपने 13 वर्षीय बेटे को डिक्की के अंदर बंद कर दिया था, क्योंकि वह पहले भी कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित था और वह उससे संक्रमित नहीं होना चाहती थी। स्थानीय मीडिया के अनुसार, रिपोर्ट की पुष्टि करने के लिए महिला अपने बेटे की एक और टेस्ट (Covid Test) के लिए प्रिजन स्टेडियम में ले जा रही थीं। केटीआरके-टीवी (KTRKTV) के अनुसार, साइट पर एक स्वास्थ्य कार्यकर्ता ने कथित तौर पर बीम को बताया कि जब तक लड़के को कार की पिछली सीट पर बैठने की अनुमति नहीं दी जाती, तब तक कोई टेस्ट नहीं किया जाएगा। जांच के बाद मां को गिरफ्तार कर लिया गया। शुक्र है कि बच्चे को नुकसान नहीं पहुंचा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है