Covid-19 Update

2,27,195
मामले (हिमाचल)
2,22,513
मरीज ठीक हुए
3,831
मौत
34,596,776
मामले (भारत)
263,226,798
मामले (दुनिया)

चाइल्ड पोर्नोग्राफी का मकड़जाल, देवभूमि हिमाचल भी नहीं रहा अछूता, जाने कहां दी दबिश

एक साल में चाइल्ड एब्यूज के मामले 400 फीसदी तक बढ़े

चाइल्ड पोर्नोग्राफी का मकड़जाल, देवभूमि हिमाचल भी नहीं रहा अछूता, जाने कहां दी दबिश

- Advertisement -

नई दिल्ली/ शिमला। केंद्रीय जांच ब्यूरो मंगलवार को चाइल्ड पोर्नोग्राफी को लेकर भारत के 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लगभग 76 स्थानों पर छापेमारी की। इस छापेमारी में हिमाचल भी अछुता नहीं रहा। बताया जा रहा है कि बच्चों के अश्लील वीडियो बनाने और उन्हें शेयर करने के मामले में सीबीआई (CBI) ने हिमाचल (Himachal) में भी कई स्थानों पर दबिश दी है। इसमें मनाली के अलावा शिमलाए कसौली और धर्मशाला शामिल है। इन सभी जगहों पर सीबीआई की टीमें छानबीन कर रही हैं। हिमाचल में इस तरह की घटना से देवभूमि शर्मसार हुई है। सीबीआई की टीमें सुबह से ही इस कार्य में लगी हुई हैं और कई बिंदुओं पर जांच चल रही है। बताया जा रहा है कि 14 नवंबर को बाल दिवस के मौके पर ऐसा एक मामला दर्ज हुआ था।

सीबीआई ऐसे कई वीडियो देखकर लोकेशन पता लगाते हुए इस नतीजे पर पहुंची कि इनमें कई वीडियो हिल स्टेशनों पर फिल्माए गए हैं। अब तक हिमाचल प्रदेश में इस प्रकार के 17 मामलों में केस भी दर्ज हुए हैं। शक है कि कोई बड़ा गिरोह इस तरह के कुकृत्य को अंजाम दे रहा है। इसी तरह से धर्मशाला के मैक्लोडगंज के एक निजी होटल में सीबीआई ने रेड की है। हालांकि इसकी अभी तक आधिकारिक पुष्टि नही हुई है। जिला प्रशासन ने इससे अपनी अनभिज्ञता बताई है तो वही निजी होटल जो हमेशा जगमगाता रहता है और देर रात तक मैक्लोडगंज के इस होटल में चहल पहल देखने को मिलती थीए लेकिन आज शाम से ही होटल की सभी गतिविधियां बंद थी। स्थानीय लोगो की माने तो शाम से ही होटल में कुछ लोग गए थे जिसके बाद से होटल की सभी गतिविधियां बंद हैं।

बता दें कि  केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) मंगलवार को चाइल्ड पोर्नोग्राफी को लेकर भारत के 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लगभग 76 स्थानों पर छापेमारी कर रहा है। एजेंसी ने ऑनलाइन बाल यौन शोषण से जुड़े आरोपों में कुल 83 आरोपियों के खिलाफ 14 नवंबर को 23 अलग-अलग मामले दर्ज किए थे। सीबीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “जांच अभी जारी है और सभी 76 जगहों पर टीमें तैनात हैं।” आंध्र प्रदेश, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, बिहार, ओडिशा, तमिलनाडु, राजस्थान, महाराष्ट्र, गुजरात, हरियाणा, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और अन्य राज्यों में छापेमारी की जा रही है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में दो हादसेः एक युवक की गई जान, दो का अस्पताल में चल रहा इलाज

सीबीआई (CBI) के अधिकारी ने बताया कि देश के अलग अलग राज्यों के 76 शहरों में यह सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। कहा कि दो दिन पहले चाइल्ड एब्यूज व चाइल्ड पोर्नोग्राफी मामले में CBI ने केस दर्ज किया था। आज सुबह से मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, बिहार, ओडिशा, तमिलनाडु, राजस्थान, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर लोगों के घरो में छापा मारा गया है।

उन्होंने कहा कि 14 राज्यों और UT के अलग-अलग शहरों में यह कार्रवाई की जा रही है। बता दें कि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (NCRB) के पिछले दिनों जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक देशभर में बच्चों के खिलाफ साइबर क्राइम 2019 की तुलना में 2020 में 400% से ज्यादा बढ़े हैं। इनमें से ज्यादातर मामले यौन कार्यों में बच्चों को दिखाने वाली सामग्री के प्रकाशन और प्रसारण से जुड़े हैं।

एनसीआरबी के 2020 के डेटा के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 170 मामले दर्ज किए गए हैं। इसके बाद कर्नाटक और महाराष्ट्र में बाल यौन हिंसा से जुड़े मामले दर्ज किए गए हैं। जबकि इस लिस्ट में करेल चौथे और ओडिशा पांचवे नंबर पर है। चाइल्ड पोर्नोग्राफी को लेकर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस यूयू ललित ने कहा था कि सिर्फ बाल तस्करी और बाल शोषण ही नहीं, चाइल्ड पोर्नोग्राफी एक ऐसी चीज है जिस पर ध्यान दिया जाना चाहिए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है