×

#Shimla में Jai Ram Govt पर बरसे कुलदीप राठौर, इन मुद्दों पर जमकर घेरा

पूछा- अटल टनल रोहतांग में कब तक दोबारा लगाई जाएगी सोनिया की शिलान्यास पट्टिका

#Shimla में Jai Ram Govt पर बरसे कुलदीप राठौर, इन मुद्दों पर जमकर घेरा

- Advertisement -

शिमला। कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर (Congress President Kuldeep Singh Rathore) ने प्रदेश सरकार को अटल टनल रोहतांग (Atal Tunnel Rohtang) से कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) की शिलान्यास पट्टिका को दोबारा लगाने को दिए अल्टीमेटम को याद दिलाते हुए पूछा है कि बीआरओ (BRO) ने इस पट्टिका के सुरक्षित रखने की बात कबूली है, तो अब उसे कब पुनर्स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस इसे कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं बनाना चाहती, पर अगर उसे निश्चित समय पर दोबारा नहीं लगाया गया तो तो जयराम सरकार (Jai Ram Govt) कांग्रेस के किसी भी आंदोलन से निपटने को तैयार रहे। इसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी। यह बात कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कांग्रेस (Congress) मुख्यालय राजीव भवन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। राठौर ने प्रदेश सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि वह इतिहास से छेड़छाड़ कर रही है। उन्होंने कहा कि रोहतांग टनल का शिलान्यास सोनिया गांधी ने 28 जून 2010 को किया था, उनके इस शिलान्यास को वहां से हटाना लोकतंत्र की मर्यादा का हनन और पूरी तरह अनैतिक है। उन्होंने कहा कि उनकी शिकायत के बाद कम से कम बीआरओ ने माना तो सही की शिलान्यास पट्टिका उनके पास है। उन्होंने बीआरओ से भी पूछा है कि वह बताएं, उन्होंने यह पट्टिका किसके आदेश से निकाली थी और अब वह इसे कब पुनर्स्थापित करने के लिए किस का आदेश चाहती है। उन्होंने कहा कि बीजेपी (BJP) नेता पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने भी पट्टिका हटाने को गलत ठहराया है।


यह भी पढ़ें: #Atal_Tunnel: सोनिया की शिलान्यास पट्टिका हटाने पर भड़की कांग्रेस, CM को लिखी चिट्ठी

राठौर ने कहा कि सरकार कोरोना (Corona) महामारी के दौरान लोगों को राहत देने के बजाए उन पर मंहगाई की मार थोप रही है। किसानों पर पहले ही एक काला कानून थोप दिया है, अब उसके बाद उनके ऋणों पर चक्रबृद्धि ब्याज वसूला जा रहा है। उन्होंने प्रदेश के अस्पतालों (Hospitals) में टेस्टों की दरें बढ़ाने की आलोचना करते हुए इसे रद्द करने की मांग भी की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सरकार से कोविड-19 के चलते लोगों को टैक्स रियायतों की मांग की थी, पर दुख है कि सरकार इसकी वसूली के लिए लोगों को नोटिस पर नोटिस जारी कर रही है।

 

 

राठौर ने प्रदेश में सीमेंट (Cement) कंपनियों की मनमानी पर भी हैरानी जताते हुए कहा कि ऐसा लगता है, सरकार ने इनके आगे अपने घुटने टेक दिए हैं। उनके कहा कि बीजेपी के इस तीन साल के कार्यकाल में सीमेंट के दाम 52 रुपये बढ़े हैं। प्रदेश में बनने वाला सीमेंट प्रदेश में ही महंगा और अन्य राज्यों में सस्ता, यह प्रदेश के साथ एक बड़ा अन्याय है जो सहन नहीं किया जा सकता। राठौर ने प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों पर दुख जताते हुए कहा है कि सरकार इसके प्रोटोकॉल का सही ढंग से अनुपालन नहीं कर रही है। उन्होंने कहा है कि सरकार ने लोगों को रामभरोसे छोड़ दिया है। कही पर भी ना तो थर्मल स्कैनिंग (Thermal Scanning) की कोई पुख्ता व्यवस्था ही है और ना ही प्रॉपर सैनेटाइजेशन की। उन्होंने सरकार से कहा है कि कोविड-19 से बचाव के नियम कड़ाई से लागू किए जाएं।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है