Covid-19 Update

2,27,518
मामले (हिमाचल)
2,22,911
मरीज ठीक हुए
3,835
मौत
34,633,255
मामले (भारत)
265,951,834
मामले (दुनिया)

पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के करीबी रहे दलीप चौहान कांग्रेस से निष्कासित

शिलाई कांग्रेस ने पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष के निष्कासन का प्रस्ताव किया पारित

पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के करीबी रहे दलीप चौहान कांग्रेस से निष्कासित

- Advertisement -

नाहन। हिमाचल प्रदेश के वरिष्ठ नेता और पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के करीबी नेताओं में से एक माने जाने वाले दलीप सिंह चौहान को लेकर शिलाई कांग्रेस ने निष्कासन प्रस्ताव पारित किया है। शिलाई कांग्रेस मंडल ने दलीप चौहान पर पार्टी गतिविधियों में संलिप्त होने के आरोप जड़े है। बुधवार को शिलाई कांग्रेस ने कांग्रेस महासचिव चंद्रमोहन ठाकुर की मौजूदगी में एक बैठक आयोजित की गई। जिसमें शिलाई के विधायक हर्षवर्धन चौहान भी मौजूद रहे। बैठक में एक स्वर में कांग्रेसी नेता दलीप चौहान को पार्टी से निष्कासित करने की वकालत करते हुए प्रस्ताव पारित किया गया। वहीं, शिलाई के विधायक हर्षवर्धन चौहान ने आयोजित पत्रकारवार्ता में इस बाबत पूछे सवाल में जवाब में कहा कि कुछ कांग्रेस पार्टी के लोगों की बीजेपी के लोगों के साथ यारी दोस्ती है। विधानसभा चुनाव हो या फिर जिला परिषद के चुनाव में वे बीजेपी की मदद करते आए है। इन बातों की कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को भी काफी समय से जानकारी थी। इन्हीं बातों को आज जनरल हाउस में उठाया गया। इस बीच शिलाई कांग्रेस ने ध्वनिमत से प्रस्ताव पारित किया, जिसमें दलीप चौहान सहित एक अन्य को पार्टी से निष्कासित किया गया है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: प्रदेश बीजेपी की कोर ग्रुप की बैठक शुरू, हार सहित कई मुद्दों पर मंथन चालू

दूसरी तरफ शिलाई कांग्रेस मंडल अध्यक्ष सीताराम शर्मा ने बताया कि पार्टी को दलीप सिंह चौहान की शिकायतें मिल रही थी। इसके चलते शिलाई में आज एक जनरल हाउस के दौरान सर्वसम्मति से यह फैसला लिया गया है। वहीं, शिलाई कांग्रेस के फैसले की सूचना प्रदेश कांग्रेस को दे दी गई है।वहीं इस मामले में पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष व प्रदेश कांग्रेस सचिव दलीप सिंह चौहान ने सभी आरोपों को नकारा है। उन्होंने कहा कि वह पार्टी के ओहदेदार पद पर हैं। पार्टी हाईकमान के निर्देश पर वह इस पद पर नियुक्त हुए हैं। पार्टी से निष्कासन शिलाई कांग्रेस का कोई हक नहीं है। दलीप चौहान ने कहा कि शिलाई कांग्रेस यह बात साबित करे कि उन्होंने कब पार्टी के खिलाफ कार्य किया है। वह हमेशा कांग्रेस पार्टी के प्रति निष्ठावान रहे हैं और पार्टी के लिए ही जीते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के समय से लेकर वह पार्टी के लिए कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करते आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिलाई कांग्रेस किसी एक की जागीर नहीं है। यह एक संगठन है, जिसमें सभी की भूमिका अहम हैं।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है