Covid-19 Update

2,27,354
मामले (हिमाचल)
2,22,669
मरीज ठीक हुए
3,833
मौत
34,606,541
मामले (भारत)
264,096,760
मामले (दुनिया)

प्रदूषण से बेहाल दिल्ली: क्या लॉकडाउन है अंतिम उपाय, जानिए क्या कहते हैं पर्यावरण मंत्री

रविवार को दिल्ली का एक्यूआई 330 दर्ज किया गया

प्रदूषण से बेहाल दिल्ली: क्या लॉकडाउन है अंतिम उपाय, जानिए क्या कहते हैं पर्यावरण मंत्री

- Advertisement -

नई दिल्ली। केंद्र और दिल्ली सरकार (Delhi Government) द्वारा कई कदम उठाए जाने के बाद वायु प्रदूषण में कुछ कमी जरूर आई है, लेकिन अभी तक हालात सुधरे नहीं है। अभी भी दिल्ली की एयर क्वालिटी इंडेक्स बेहद खराब दिखा रही है। इधर, आज फिर इस मामले में चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एनवी रमन्ना की बैंच इस मामले में सुनवाई करेगी। बता दें कि पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अगर संभव हो तो दो दिन का लॉक डाउन लगा दें।

रविवार को दिल्‍ली का एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स (AQI) 330 दर्ज किया गया। जो एक दिन पहले यानि शनिवार को 437 था। शुक्रवार को एक्‍यूआई 471 था, जो इस मौसम का सबसे खतरनाक स्‍तर का एक्‍यूआई था। वहीं हरियाणा और पंजाब में आग लगने की घटनाएं भी कम हुई हैं। दिल्‍ली से सटे, गाजियाबाद, गुरुग्राम, नोएडा, फरीदाबाद, ग्रेटर नोएडा के एक्‍यूआई की बात करें तो ये क्रमश: 331, 287, 321, 298, 310 दर्ज किया गया।

वायु प्रदूषण को लेकर दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के भीतर प्रदूषण के कारक हैं, बायोमास का जलना, गाड़ियों का प्रदूषण, डस्ट पॉल्यूशन। उन्होंने कहा कि प्रदूषण से लड़ने के लिए हमने रणनीति तैयार कर ली है और कार्यवाही शुरू कर दी है। वहीं, उन्होंने जोर देते हुए कहा कि जब तक पंजाब और हरियाणा में पराली जलाने की घटनाओं पर पूरी तरह लगाम नहीं लगेगा, तब तक दिल्ली को वायु प्रदूषण से निकालना मुश्किल है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में प्रदूषण से लोगों की फूल रही सांसें, CJI बोले- संभव हो तो दो दिन का लगा दें लॉकडाउन

मालूम हो कि शनिवार को सुप्रीम कोर्ट ने राजधानी दिल्‍ली के प्रदूषण के हालात पर चिंता जताई थी, सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि ये चिंताजनक हालात है। यही कारण है कि राजधानी में जिस तरह हवा की स्थिति खराब हुई है, दिल्‍ली सरकार ने पहले ही स्‍कूल और कॉलेज राजधानी में बंद करने का ऐलान किया है, केवल वहीं स्‍कूल खुलेंगें जहां सोमवार से परीक्षा होनी है। दिल्‍ली में सभी ऑफिस, स्‍वायत्‍त संस्‍थाओं को भी वर्क फ्रॉम होम के तहत काम करने को कहा है। हालांकि जरूरी सेवाओं से जुड़े लोग इसके दायरे में नहीं आएंगे।

इधर, मौसम विभाग (The India Meteorological Department) के अनुसार, दिल्‍ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर दृश्‍यता 1500 से 2200 मीटर दर्ज की गई। 1000 से 1500 मीटर सफदरजंग एयरपोर्ट पर आंकी गई। SAFAR ने अपने बयान में कहा है कि राजधानी दिल्‍ली की हवा अगले दो दिनों में सुधर सकती है। 17 नवम्‍बर को ये बहुत ही खराब कैटगरी से सुधार की ओर जा सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है