Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

गर्मी से हुए बेहाल, भक्तों ने भगवान को चढ़ाई Cold Drink, एसी का भी किया इंतजाम

गर्मी से हुए बेहाल, भक्तों ने भगवान को चढ़ाई Cold Drink, एसी का भी किया इंतजाम

- Advertisement -

वाराणसी। मई महीना खत्म हो रहा है और गर्मी बढ़ती जा रही है। आम इंसान तो क्या अब तो भगवान (God) भी गर्मी से परेशान हो गए हैं। हालांकि ऐसा भगवान ने खुद नहीं कहा उनके भक्तों को ऐसा लगता है। इसी को देखते हुए वाराणसी में भक्त अपने भगवान के लिए कोल्ड ड्रिंक (cold drink) का भोग लगा रहे हैं, साथ ही एयर कंडीशनर और पंखे की व्यवस्था भी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: ट्रंप ने PM मोदी को बताया- अत्यंत सज्जन व्यक्ति; बोले- मैं भी India में लोकप्रिय हूं

 


वाराणसी में 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंचा तापमान

धर्म की नगरी काशी में कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिल रहा है। कोल्ड ड्रिंक्स की बोतलें और चॉकलेट भगवान के दरबार में चढ़ावे के लिए रखे गए हैं। काशी में भगवान शिव के आठ रूपों में से एक बाल स्वरूप बाबा बटुक भैरव का मंदिर लॉकडाउन के दौरान श्रद्धालुओं के लिए बंद है तो वहीं मंदिर के सेवक और पुजारी कोल्डड्रिंक्स और चॉकलेट्स चढ़ा रहे हैं। ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि गर्मी पूरे चरम पर है और वाराणसी का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर जा पहुंचा है।

 

बाबा के लिए एयर कंडीशनर, पंखा और एग्जास्ट फैन लगाया

बाबा बटुक भैरव दरबार के एक सेवक विश्वजीत बागची ने बताया कि बाबा बटुक भैरव के लिए एयर कंडीशनर, पंखा और एग्जास्ट फैन लगाया गया है। अन्य मंदिरों में भी ठंडक के लिए व्यवस्था की गई है। लॉकडाउन के चलते मंदिर तो बंद है, लेकिन थोड़ी सी ही छूट मिलने पर मंदिर के महंत और मंदिर आने वाले सेवकों द्वारा बाबा की सेवा की जा रही है। बाबा बटुक भैरव शिवजी के बाल स्वरूप हैं और इनको अंडा, मांस, मछली, शराब का भी भोग लगाया जाता है। जिस तरह आम दिनों में चॉकलेट और टॉफी श्रद्धालु चढ़ाते हैं वैसे ही गर्मी में बटुक भैरव को कोल्डड्रिंक्स चढ़ाया जाता है। हालांकि ऐसा हर बार गर्मी में किया जाता है ताकि बाबा को गर्मी ना लगे और वे अपना आशीर्वाद बनाए रखें। बच्चों को पसंद आने वाली सभी चीजें बाबा बटुक भैरव को चढ़ाई जाती हैं और फिर वापस भक्तों या फिर बच्चों में इसका वितरण कर दिया जाता है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है