Covid-19 Update

3,12, 188
मामले (हिमाचल)
3, 07, 820
मरीज ठीक हुए
4189
मौत
44,583,360
मामले (भारत)
622,055,597
मामले (दुनिया)

सुनो सरकार! पहले मकान गिरा अब बरामदाः कहां जाएगी 80 वर्ष की वृद्धा

आय का कोई साधन नहीं, सरकार से मदद करने की लगाई गुहार

सुनो सरकार! पहले मकान गिरा अब बरामदाः कहां जाएगी 80 वर्ष की वृद्धा

- Advertisement -

जवाली। हिमाचल में बारिश ने जमकर कहर बरपाया है। इस बार मानसून में कई लोगों को आशियाने भी उजड़ गए। इन्ही में से एक है कांगड़ा जिला के जवाली उपमंडल में रहने वाली बुजुर्ग ज्ञानो देवी। इस महिला का पहले घर गिरा फिर ये बरामदे में रहने लगी इस बार की बरसात में वह बरामदा भी गिर गया। जवाली के ग्राम पंचायत फारियां वार्ड-4 (Phariyan Ward-4) में अस्सी वर्षीय ज्ञानो देवी पत्नी फकीर चंद व उलका बेटा प्यारे लाल 61 वर्षीय एक जर्जर कच्चे मकान (Dilapidated house) में रह रहे हैं। ये दोनों मां-बेटा खतरे के साए में जीवन काटने को मजबूर हैं। गरीब परिवार से संबंधित मां- बेटा आईआरडीपी (IRDP) में दर्ज हैं। इनका मकान कच्चा है और गिरने की कगार पर है। बारिश से इनके मकान का बरामदा भी गिर गया था।

 

यह भी पढ़ें:बारिश ने सड़क का किया ऐसा हाल, गाड़ी को दूर पैदल चलने लायक भी नहीं छोड़ा

इस संबंध में ज्ञानों देवी (Giano Devi) ने रोते हुए बताया- इस मकान में मैं और मेरा बेटा प्यारे लाल रह रहे हैं। यानी कि इस मकान के दो हिस्सेदार हैं। सरकार यूं तो गरीबों के आशियाने बनाने के दावे करती रहती है, मगर मेरे हिस्से वाले मकान (House) का कमरा गिर गया है। मैं तब से बरामदे में ही रोटी बनाती थी और उसी में सोती थी। मगर अब बरामदा (verandah) भी गिर गया है। उसने बताया कि वर्ष 2015 में पंचायत प्रधान ने मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत उसके मकान के लिए प्रस्ताव डाला था, मगर आज तक मकान नहीं बन पाया है।

jawali

jawali

मकान का शेष हिस्सा भी बिलकुल जर्जर हो चुका है और कभी भी गिर सकता है। इस संबंध में ग्राम पंचायत फारियां केे उपप्रधान रमन कुमार ने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur),डीसी कांगड़ा निपुण जिंदल, एसडीएम जवाली महेंद्र प्रताप सिंह से मांग की है कि इस गरीब वृद्धा को जल्द से जल्द मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत सहायता प्रदान की जाए। वहीं इस संबंध में पंचायत प्रधान जीवन लाल ने बताया कि ज्ञानो देवी व प्यारे लाल अति निर्धन परिवार से संबंध रखते हैं। अतः इनकी मदद करना बहुत जी जरूरी है। इनके नाम का प्रस्ताव मुख्यमंत्री आवास योजना व प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्राम पंचायत में डाल दिया गया है। जब अप्रूवल मिलेगी तो जल्द ही मकान डाल दिया जाएगा।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है