×

HPU में गरमाया माहौल, पुलिस ने धरने पर बैठे छात्रों को जबरन उठाया- फटे कपड़े

कुलपति प्रोफेसर सिकंदर कुमार का घेराव करने पहुंचे थे एबीवीपी कार्यकर्ता

HPU में गरमाया माहौल, पुलिस ने धरने पर बैठे छात्रों को जबरन उठाया- फटे कपड़े

- Advertisement -

शिमला। एचपीयू (HPU) में उस वक्त माहौल गरमा गया जब वीसी कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे एबीवीपी (ABVP) कार्यकर्ताओं को पुलिस ने जबरन उठाया। पुलिस और एबीवीपी कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प में कुछ छात्रों के कपड़े भी फट गए। वहीं, कुछ छात्रों की चप्पलें इधर-उधर पड़ी दिखीं। बता दें कि हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता ने छात्र हित की मांगों को लेकर कुलपति प्रोफेसर सिकंदर कुमार का घेराव करने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान एचपीयू में भारी पुलिस बल तैनात था। एबीवीपी कार्यकर्ता वीसी कार्यालय के बाहर सड़क पर गोल चक्र बनाकर बैठ गए और नारेबाजी करने लगे। लेकिन, एचपीयू के वीसी प्रोफेसर सिकंदर कुमार की गाड़ी आने से पहले ही पुलिस (Police) कर्मियों ने एबीवीपी कार्यकर्ताओं को जबरन उठा दिया।


यह भी पढ़ें: Kullu: अवैध कब्जे को लेकर विधायक के होटल परिसर में धरने का मामला पहुंचा थाने

इसी बीच कुलपति प्रोफेसर सिकंदर कुमार भी गाड़ी में कार्यालय आ पहुंचे। सड़क पर से उठाए जाने के बाद एबीवीपी कार्यकर्ता वीसी (VC) के ऑफिस में घुसने की कोशिश करने लगे। पुलिस ने बल का प्रयोग करते हुए उन्हें रोक लिया। इस दौरान कुछ देर तक एबीवीपी कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच धक्का मु्क्की चलती रही। एबीवीपी के कार्यकर्ता ऑफिस में घुसने की कोशिश कर रहे थे तो पुलिस उन्हें खींच-खींच कर रोक रही थी। वीसी ऑफिस के बाहर काफी देर तक ऐसा ही चलता रहा।

 

 

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रांत मंत्री राहुल राणा ने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता कुलपति प्रोफ़ेसर सिकंदर कुमार से छात्र हित की मांगों को लेकर मिलना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें कुलपति से नहीं मिलने दिया और उनके साथ धक्का-मुक्की की। राहुल राणा ने कहा कि प्रदेश में लंबे समय से केंद्रीय विश्वविद्यालय (Central University) की मांग को लेकर विद्यार्थी परिषद संघर्ष कर रही है, लेकिन सरकार और प्रशासन उनकी बात नहीं सुन रहा है। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में प्रशासन द्वारा प्रवेश परीक्षाओं को ना करवाए जाने का फैसला भी सरासर गलत है। विद्यार्थियों को मेरिट के आधार पर दाखिला ना देकर प्रवेश परीक्षा के आधार पर दाखिला दिया जाना चाहिए।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है